VicksWeb upgrade Location upload ads trending
VicksWeb भारत
नीति आयोग का पी�मओ से जिला स�तर का डाटा शेयर करना आचार संहिता का उल�लंघन नहीं
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

नई दिल�ली. च�नाव आयोग ने नीति आयोग द�वारा प�रधानमंत�री ऑफिस को उन जिलों का डाटा उपलब�ध कराने में आचार संहिता का उल�लंघन नहीं माना है, जहां प�रधानमंत�री नरेंद�र मोदी की च�नावी सभा�ं होनी थीं।

सीनियर डिप�टी इलेक�शन कमिश�नर संदीप सक�सेना ने कहा, प�रधानमंत�री को उस नियम से छूट मिली है, जिसके तहत मंत�री च�नाव प�रचार के साथ अधिकारिक यात�रा नहीं कर सकते। सक�सेना ने बताया, प�रधानमंत�री को यह छूट अक�टूबर 2014 से मिली है और यह �क बार के लि� नहीं, बल�कि हमेशा के लि� है।

नीति आयोग से मांगा था जवाब

बाद में सूत�रों ने बताया कि नीति आयोग ने पी�मओ से किसी तरह का राजनीतिक डाटा नहीं, बल�कि जिला स�तर का डाटा शेयर किया था। इससे पहले च�नाव आयोग ने 4 मई को नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत से कांग�रेस और आप के आरोपों पर जवाब मांगा था।आयोग ने कांत से जल�द से जल�द जवाब देने को कहा था। आरोप थे कि नीति आयोग ने राज�यों और केंद�र शासित राज�यों में अपने अफसरों से कहा था कि वे प�रधानमंत�री के च�नाव प�रचार के लि� जगहों के बारे में जानकारी दें।

कांग�रेस की शिकायत पर आयोग ने दिया जवाब

आयोग ने कांग�रेस की उस शिकायत पर भी जवाब दिया, जिसमें आरोप थे कि डिपार�टमेंट फॉर प�रमोशन ऑफ इंडस�ट�री �ंड इंटरनल ट�रेड के �क अफसर ने स�टार�ट अप के बारे में कॉमर�स मिनिस�ट�री से जानकारी मांगी थी और इसका इस�तेमाल भाजपा के घोषणा पत�र में ह�आ है। सक�सेना ने बताया कि इस बारे में मंत�रालय से जानकारी मांगी गई है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
No model code violation by Niti Aayog in sharing district level data with PMO: EC

मोदी ने कहा- कांग�रेसी कितने भी हवन करें, भगवा में आतंकवाद के दाग लगाने के पाप से नहीं बच पा�ंगे
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

लखनऊ/भोपाल.प�रधानमंत�री नरेंद�र मोदी ने रविवार को मध�यप�रदेश और उत�तरप�रदेश की रैलियों में कांग�रेस और सपा-बसपा गठबंधन पर निशाना साधा। उन�होंने कहा कि कांग�रेस नेता कितने भी हवन करें और जनेऊ दिखा�ं। यहां तक की प�लिस को भी भगवा ड�रेस सिलवा दें, लेकिन भगवा में जो आतंकवाद का दाग लगाने की उन�होंने साजिश की थी। उस पाप से कांग�रेस और महामिलावटी कभी नहीं बच पा�ंगे। मोदी ने कहा कि मायावती को बेटियों की इतनी ही चिंता है तो वे अलवर कांड के बाद राजस�थान सरकार से समर�थन वापस लें।

मोदी ने इंदौर की सभा में कहा, ''यह ताई का शहर है। उन�होंने क�शलता सांसद चलाकर अमिट छाप छोड़ी है। पार�टी में मोदी को कोई डांट सकता है तो वह ताई हैं। मप�र की जनता पूछ रही है कि बिजली के बिल के बजाय बिजली की सप�लाई आधी क�यों ह�ई तो कांग�रेस सरकार कहती है कि ह�आ तो ह�आ। आज प�रधानमंत�री बनने वालों की लंबी कतार है। क�छ लोगों ने तो दर�जी भी सिलेक�ट कर लि� हैं। इतने चेहरों में कौन है जो आतंकवाद से म�काबला और देश की स�रक�षा कर सकता है?''

मोदी ने बिना नाम लि�दिग�विजय-कमलनाथ पर तंज कसा

खंडवा में कहा कि पहले पाकिस�तान में पलने वाले आतंकी हमला करते थे तो निर�दोषों को जेल में ढूंस दिया जाता था। उन�होंने हिंदू आतंकवाद का दाग लगाकर महान परंपरा का अपमान किया। वोट बैंक की राजनीति के लि� गंभीर साजिश रची गई, लेकिन अब जवाब मिल रहा है। कांग�रेस ने खंडवा के सपूत किशोर क�मार के गानों पर आपातकाल के दौरान रोक लगाई थी। आज आप उनसे इस बारे में पूछेंगे तो कहेंगे कि ह�आ तो ह�आ। गैस कांड के आरोपी को सरकारी विमान से भगाने पर इस पर भी यहीं कहेंगे। उन�होंने 1984 के दंगों के ग�नहगार को पंजाब का प�रभारी बनाया, लेकिन लोगों ने विरोध किया तो अब मध�यप�रदेश का म�ख�यमंत�री बना दिया।

सेना आतंकी मारने से पहले किसी सेइजाजत नहीं लेती

क�शीनगर में कहा कि 5 चरण के मतदान में विरोधी चारों खाने चित हो ग�, इसलि� बौखला�हैं। उन�हें सम� नहीं आ रहा कि चौकीदार पर लोगों का इतना प�यार क�यों उमड़ रहा है। क�छ लोगों को आपत�ति है किआज च�नाव के वक�त हीकश�मीर में आतंकियों को क�यों मारा? अगर आतंकी बंदूक लेकर सामने खड़ा हो तो क�या हमारे जवान च�नाव आयोग से इजाजत लेंगे? आतंक के खिलाफ जो लड़ाई हम लड़ रहे हैं उसके लि� देश कमल और मोदी को वोट दे रहा है। हम जब से कश�मीर में आ�, हर तीसरे दिन सफाई होती है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
नरेंद�र मोदी ने यूपी के क�शीनगर में रैली की।

हाईकोर�ट ने कहा- किरण बेदी को सरकार के रोजमर�रा के कामकाज में दखल का अधिकार नहीं
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

चेन�नई. मद�रास हाईकोर�ट की मद�रई बेंच ने कहा कि प�ड�ड�चेरी की उप राज�यपाल किरन बेदी राज�य सरकार के रोजाना के कामकाज में दखल नहीं दे सकतीं। उनका काम केवल मंत�रिमंडल की सलाह पर अमल करना है। असली ताकत जनता के जरि� च�नी गई सरकार के पास है। कोर�ट ने केंद�रीय गृह मंत�रालय के उस आदेश को भी खारिज कर दिया, जिसके जरि� बेदी को प�रशासनिक अधिकार दि� ग� थे।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
प�रतीकात�मक फोटो

दैनिक भास�कर समूह भारत में नंबर-1, टाइम�स ऑफ इंडिया ग�र�प दूसरे स�थान पर
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

नई दिल�ली. दैनिक भास�कर समूह अपने हिंदी, ग�जराती और मराठी अखबारों के साथ �क बार फिर देश का नंबर-1 अखबार घोषित किया गया है। इंडियन रीडरशिप सर�वे (आईआर�स) 2019 के Q-1 के नतीजों ने ये प�ष�टि की है। नंबर-2 पर टाइम�स ऑफ इंडिया ग�र�प है।

सर�वे में उसके अंग�रेजी, हिंदी, बंगाली, कन�नड़ और मराठी भाषाओं के अखबार शामिल हैं। (स�रोत: आईआर�स-2019 Q-1, �आईआर अर�बन, बिजनेस अखबारों को छोड़कर)। सर�वे रिपोर�ट के म�ताबिक दैनिक भास�कर के 9% पाठक ब�े हैं। (स�रोत: आईआर�स-2019 Q-1 टीआर, यू+आर)। इसके साथ ही भास�कर समूह के क�ल पाठकों की संख�या ब�कर अब 6.56 करोड़ हो गई है।

समूह ने सबसे तेज वृद�धि राजस�थान में दर�ज की है, जहां पर दैनिक भास�कर ने 18% की ब�ोतरी के साथ क�ल 9 लाख न� पाठक जोड़े हैं। मध�यप�रदेश में भी दैनिक भास�कर ने 8% न� पाठक जोड़े हैं। (स�रोत: �आईआर, मेन, यू+आर)। इसके साथ ही हरियाणा, पंजाब, ग�जरात, महाराष�ट�र, �ारखंड और बिहार में भी दैनिक भास�कर ने अच�छी पाठक संख�या हासिल की है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
Dainik Bhaskar group number -1 in India

स�प�रीम कोर�ट ने मध�यस�थता प�रक�रिया के लि� 15 अगस�त तक का वक�त दिया
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

नई दिल�ली. स�प�रीम कोर�ट ने अयोध�या विवाद के लि� बना� ग� मध�यस�थता पैनल को 15 अगस�त तक का वक�त और दे दिया है।इससे पहले पैनल ने शीर�ष अदालत कोअपनी रिपोर�ट सीलबंद लिफाफे में सौंपी।मध�यस�थता पैनल के पास यह मामला जाने के बाद श�क�रवार कोपहली बार इस पर स�नवाई ह�ई। इस दौरान पैनल ने कहा कि बातचीत सकारात�क दिशा में है। उन�हें समाधान की उम�मीद है, इसलि� क�छ और वक�त दिया जा�।

मामले की स�नवाई चीफ जस�टिसरंजन गोगोई की अध�यक�षता वाली पांच जजोंकी संविधान पीठ कर रही है। इसमें अन�य जज जस�टिस �स� बोबडे, जस�टिस डीवाई चंद�रचूड़, जस�टिस अशोक भूषण और जस�टिस �स� नजीर हैं।

कोर�ट ने कहा- मध�यस�थता के बीच कोई नहीं आ�गा

  • बेंच ने कहा- अगर मधà¥�यसà¥�थ नतीजे को लेकर उमà¥�मीद जता रहे हैं और 15 अगसà¥�त तक का वकà¥�त चाहते हैं तो देने में कà¥�या हरà¥�ज है? यह मसला सालों से लटका है, तो फिर कà¥�छ और वकà¥�त कà¥�यों नहीं दिया जाना चाहिà¤�?
  • हिंदू और मà¥�सà¥�लिम पकà¥�षकारों के वकीलों ने मधà¥�यसà¥�थता की पà¥�रकà¥�रिया पर भरोसा जताया और कहा कि वे इसमें पूरी तरह सहयोग कर रहे हैं।
  • à¤�क वकील ने बेंच से कहा कि दसà¥�तावेजों केकà¥�षेतà¥�रीयभाषाओं में करीब 13 हजार 990 पेज हैं। इनमें से कà¥�छ का अनà¥�वाद गलत हà¥�आ है जिसकी वजह से दिकà¥�कत होगी।
  • इस पर बेंच ने कहा- अनà¥�वाद के बारे में यदि कोई आपतà¥�ति है तो उसे 30 जून तक लिखित में रिकॉरà¥�ड पर लाया जाà¤�। किसी को भी मधà¥�यसà¥�थता के रासà¥�ते में नहीं आने दिया जाà¤�गा।

2 महीने पहले मामला मध�यास�थता पैनल को सौंपा गया

8 मार�च को पिछली स�नवाई मेंअयोध�या विवाद का समाधान बातचीत से तलाशने के लि� तीन सदस�यीय मध�यस�थता पैनल का गठन किया गया था।इसकी अग�आईरिटायर�ड जस�टिसफकीर मोहम�मद इब�राहिम कलीफ�ल�ला कर रहे हैं। बाकी दो सदस�यवकील श�रीराम पंच� और आध�यात�मिक ग�र� श�रीश�री रविशंकर हैं।पैनल को आठ सप�ताह का वक�त दिया गया था और चार सप�ताह में प�रोग�रेसरिपोर�ट मांगी गई थी।

अवध यूनिवर�सिटी में ह�ई मध�यस�थताप�रक�रिया

पिछले दिनों इस मामले में याचिका दाखिल करने वाले 25 लोग मध�यस�थता पैनल के सामने पेश ह�� थे। याचिकाकर�ताओं के साथ उनके वकील भी मौजूद थे। इन सभी लोगों को फैजाबाद प�रशासन की तरफ से नोटिस भेजा गया था। मध�यस�थता की प�रक�रिया फैजाबाद अवध यूनिवर�सिटी में ह�ई। इस दौरान किसी को भी वहां जाने की अन�मति नहीं थी।

सिर�फनिर�मोही अखाड़ा मध�यस�थता के पक�ष में था

निर�मोही अखाड़ा को छोड़कर रामलला विराजमान और अन�य हिंदू पक�षकारों ने मामला मध�यस�थता के लि� भेजने का विरोध किया था।म�स�लिम पक�षकार और निर�मोही अखाड़ा ने इस परसहमति जताई थी। कोर�ट ने सभी पक�षों की दलीलें स�नने के बाद मामला मध�यस�थता को भेज दिया था।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
Ayodhya Ram Mandir Land Dispute: SC gives mediation panel in the Ayodhya case time till 15 August

बी�चयू के डॉक�टर�स ने ऑपरेशन कर सीने से निकाला दो फीट लंबा लोहे का सरिया
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

वाराणसी. काशी हिन�दू विश�वविद�यालय (बी�चयू) के डॉक�टरों ने तीन घंटे के सफल ऑपरेशन के बाद 2 फीट लम�बा और ढाई इंच मोटा सरिया य�वक के सीने से निकाल कर उसको नया जीवन प�रदान किया। मछलीशहर में क�छ दिनों पहले ह�ई �क द�घर�टना मेंय�वक के सीने में सरिया धंस गया था। इसकी जानकारी बी�चयू के मशहूर सर�जन डॉ. सिद�धार�थ लखोटिया ने दी।

20 वर�षीय पिकअप चालक भोपाल का निवासी है। किसी प�रत�याशी केच�नाव प�रचार के सिलसिले में वह उत�तरप�रदेशआया था। यहां पिछले दिनों हादसे का शिकार हो गया। वह जिसपिकअप को चला रहा था वहट�रक से जाभिड़ी। उसी समय �क सरिया उसके सीने के आरपार हो गया था। बी�चयू के कार�डियो थोरेसिक सर�जरी विभाग के विभागाध�यक�ष प�रो.सिद�धार�थ लखोटिया के नेतृत�व में उसका ऑपरेशन किया।

सीने काे चीरता ह�आ बाहर निकल आया था ढाई फीट लंबा सरिया

डाॅ.सिद�धार�थ ने बताया कि द�र�घटना इतनी भयावह थी कि ट�रक का लगभग 2 फीट लंबा और ढाई इंच मोटा लोहे का सरिया पिकअप चालक के सीनेके दाईंतरफ सीने को चीरता ह�आ पीछे से बाहर निकल गया था। इसकी वजह से उसके दा�ं फेंफड़े में गंभीर चोट आईंथीं। दाईंतरफ छाती में हवा भर गई थी।रक�त-स�त�राव होने से उसके मस�तिष�क में भी गहरी चोट आई थी।

मरीज की हालत नाज�क देख बचा पाना म�श�किल लग रहा था

द�र�घटना के बाद मछली शहर की प�लिस ने सावधानी बरती औरउसे चिकित�सीय स�विधा उपलब�ध करवाई। जब यह मरीज ट�राॅमासेंटर में आया, तब यहबेहोश था।हालत नाज�क बनी ह�ई थी।�सी गंभीर स�थिति में ऑपरेशन कर राॅड को निकालना औरईश�वर से प�रार�थना ही �कमात�र सहारानजर आ रहा था।

3 घंटे ऑपरेशन चला, अब पूरी तरह स�वस�थ�य

ऑपरेशन लगभग 3 घंटे तक चला।मरीज अब सीटीवी�स आईसीयू में स�वास�थ�य लाभ लेरहा है।क�छ दिनों के बादउसे छ�ट�टी दे दी जा�गी। चिकित�सकों की मानें तो इस तरह की चोट के बाद ज�यादातर लोगों की मौतद�र�घटनास�थल पर ही हो जाती है। छाती में इस तरह की चोट की सर�जरी की स�विधा सिर�फ पूर�वांचल बी�चयूअस�पताल में ही उपलब�ध है।

23 मई को देखि� सबसे तेज च�नाव नतीजे भास�कर APP पर



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
बी�चयू में मरीज का ह�आ सफल ऑपरेशन।
bhu doctros gets opreation a youth from Bhopal
bhu doctros gets opreation a youth from Bhopal
bhu doctros gets opreation a youth from Bhopal

सेंसेक�स 324 अंक गिरकर 38277 पर, निफ�टी 100 प�वाइंट नीचे 11498 पर बंद
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

म�ंबई. शेयर बाजार में मंगलवार को लगातार दूसरे दिन बड़ी गिरावट आई। सेंसेक�स 323.71 अंक की गिरावट के साथ 38,276.63 पर बंद ह�आ। कारोबार के दौरान इसने 38,835.54 का उच�च और 38,236.18 का निचला स�तर छ�आ। यानी इंट�रा-डे में ऊपरी स�तर से यह 600 प�वाइंट नीचे आया। निफ�टी की क�लोजिंग 100.35 अंक नीचे 11,497.90 पर ह�ई। कारोबार के दौरान यह 11,657.05 के उच�च और 11,484.45 के निचला स�तर तक गया।

अमेरिका-चीन के बीच ट�रेड वॉर की चिंता से बिकवाली बढ़ी

बाजार की श�र�आत बढ़त के साथ ह�ई। कारोबार के दौरान सेंसेक�स 235 अंक चढ़ा लेकिन ऊपरी स�तरों से म�नाफावसूली हावी हो गई। विश�लेषकों के म�ताबिक आई�म�फ की प�रम�ख क�रिस�टीन लेगार�ड के बयान के बाद बिकवाली तेज हो गई। उन�होंने कहा कि अमेरिका-चीन के बीच व�यापारिक तनाव द�निया की इकोनॉमी के लि� खतरा है।

मीडिया इंडेक�स में 2.74% न�कसान

सेंसेक�स के 30 में से 24 और निफ�टी के 50 में से 37 शेयरों ने गिरावट के साथ कारोबार खत�म किया। �न�सई के 11 में से 10 सेक�टर इंडेक�स न�कसान में रहे। मीडिया इंडेक�स 2.74% ल�ढ़क गया।

निफ�टी के टॉप-5 लूजर

शेयर गिरावट
टाटा मोटर�स 4.90%
जी �ंटरटेनमेंट 4.33%
आईसीआईसीआई बैंक 3.76%
रिलायंस इंडस�ट�रीज 3.17%
जे�सडब�ल�यू स�टील 2.98%

निफ�टी के टॉप-5 गेनर

शेयर बढ़त
हिंद�स�तान यूनीलीवर 1.71%
इन�फ�राटेल 1.38%
लार�सन �ंड टूब�रो 1.17%
हिंडाल�को 1.06%
विप�रो 0.91%



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
stock market sensex rise 200 points oil marketing cos stocks fall upto 4 pc

गैस चूल�हे के गोदाम में भीषण आग, �क बच�ची समेत परिवार के पांच लोगों की मौत
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

लखनऊ. यहां केइंदिरा नगरइलाके में मंगलवार देर रात�क गैस चूल�हे के गोदाम में आग लग गई। इसकी चपेट में आकर �कबच�ची समेत परिवार के पांच सदस�यों की मौत हो गई।हादसा शॉर�ट सर�किट होने से ह�आ है। फायर ब�रिगेड को आग लगने की जानकारी करीब डेढ़ घंटे बाद मिली। आग पर काबू करने के लि� घटनास�थल पर 12 फायर ब�रिगेड की गाड़ियां पह�ंचीं।

मृतकों में �कदंपती शामिल
हादसे में जान गंवाने वालापरिवार मूलत: प�रतापग� का था। यहां मकान को ही गोदाम बनाकर रखा गया था।मृतकों की पहचान स�मित सिंह (31) , उनकी पत�नी वंदना सिंह, छह माह बच�ची बेबी, जूली सिंह (48) और डब�लू सिंह (50) के रूप में ह�ई है।

दम घ�टने से ह�ई मौत
घटना के बाद स�थानीय लोगों ने हंगामा करना श�रू कर दिया। इसके बाद फायर ब�रिगेड कीटीम ने मौके पर पह�ंचकरजेसीबी की मदद से कई जगह से घर तोड़ा औरबचाव कार�य श�रू किया। बताया जा रहा है कि सभी की मौत दम घ�टने से ह�ई है।

म�ख�यमंत�री ने द�ख जताया

म�ख�यमंत�री योगी आदित�यनाथने घटना पर द�ख व�यक�त किया।उन�होंने लखनऊ के कमिश�नर कोमामले की जांच करने केआदेश दि� हैं।सात दिन के भीतर इसकी रिपोर�ट देने को कहा है। उन�होंने लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों की जवाबदेही भी तय करने का निर�देश दिया है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
लखनऊ में गैस चूल�हे के गोदाम में लगी आग के बाद घर में रखा सारा सामान राख हो गया।
Fire Breaks Out In A Gas Stove Warehouse,
मृतक जूली और स�नील।

ममता ने कहा- मोदी पर लोकतंत�र का करारा थप�पड़ पड़ना चाहि�
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

कोलकाता. पश�चिम बंगाली की म�ख�यमंत�री ममता बनर�जी ने प�र�लिया में च�नावी रैली को संबोधित करते ह�� प�रधानमंत�री नरेंद�र मोदी पर निशाना साधा। ममता ने कहा,‘‘मेरे लि� पैसा कोई मायने नहीं रखता। यही कारण है कि जब प�रधानमंत�री नरेंद�र मोदी बंगाल आ� तो उन�होंने मेरी पार�टी पर तोलाबाज होने का आरोप लगाया। मैं चाहती हूं कि उन�हें लोकतंत�र का तगड़ा तमाचा पड़े।’’

इससे पहले म�ख�यमंत�री बनर�जी ने बिष�ण�प�र में जनसभा की। प�रधानमंत�री नरेंद�र मोदी पर तंज कसते ह�� उन�होंने कहा कि भाजपा का बाबू जय श�रीराम कहता है लेकिन क�या उसने �क भी राम मंदिर बनवाया? च�नाव के दौरान भगवान रामचंद�र आपके पार�टी �जेंट बन जाते हैं और आप (मोदी) कहते हैं कि रामचंद�र मेरे च�नाव �जेंट हैं। आप जय श�रीराम का नारा लगाते हो और दूसरे को �सा जबरन बोलने के लि� कहते हो।

सोमवार को मोदी ने तामल�क (बंगाल) की रैली में कहा था, ‘‘दीदी इतनी बौखला गई हैं कि अब उन�हें भगवान की बात करना भी खटक रहा है। हालत तो यह है कि जय श�रीराम कहने वालों को दीदी गिरफ�तार करवाकर जेल भेज रही हैं। दीदी के इसी रवैये की वजह से पश�चिम बंगाल में लोगों को अपने हिसाब से पूजा पाठ करने, पूरी आजादी के साथ अपने व�रत, पर�व, त�योहार मनाने में दिक�कत हो रही है।’’

‘वे किसी से जबर�दस�तीनहीं ब�लवा सकते’
ममता ने कहा, ‘‘आप (मोदी) किसी से जबर�दस�ती क�छ नहीं ब�लवा सकते। हमारी भगवान राम में आस�था है। हम जानते हैं कि उन�हें किस तरह आदर देना है। हम जय हिंद, वंदे मातरम, मां-माटी-मान�ष की जय, तृणमूल कांग�रेस की जय बोलेंगे। लेकिन, वे नारे कभी नहीं लगा�ंगे जो भाजपा लोगों से स�नना चाहती है।’’

‘राजीव गांधी पर मोदी का बयान निंदनीय’
भूपेश बघेल ने रायप�र में प�रेस कॉन�फ�रेंस में कहा, ‘‘राजीव गांधी का देश के लि� योगदान �क मील के पत�थर की तरह है। सूचना-प�रौद�योगिकी और पंचायती राज के लि� कि� ग� उनके काम हमारे सामने हैं। देश की �कता-अखंडता के लि� उन�होंने अपना जीवन न�योछावर कर दिया। मरणोपरांत उन�हें देश के सबसे बड़े सम�मान भारत रत�न से सम�मानित किया गया। राजीव जी पर भद�दी टिप�पणी करना घोर निंदनीय है।’’

‘3-4 घंटे सोते हैं मोदी, इसलि� मानसिक संत�लन बिगड़ा’

बघेल के म�ताबिक, ‘‘कोई सोच भी नहीं सकता है कि प�रधानमंत�री के पद पर बैठा व�यक�ति �क �से व�यक�ति पर अभद�र टिप�पणी करेगा जो अब इस द�निया में ही नहीं है। दरअसल, मोदी अपना मानसिक संत�लन खो च�के हैं। उन�हें इलाज की जरूरत है। उन�होंने ख�द कहा कि वे रात में 3-4 घंटे ही सोते हैं। कम नींद लेने के चलते ही उन�होंने मानसिक स�तर बिगड़ गया है। �सी स�थिति में उच�च पद पर रहना देश के लि� खतरा हो सकता है।’’

छत�तीसगढ़ के म�ख�यमंत�री ने यह भी कहा कि मोदी �ूठ बोलते हैं कि उन�हें देश से प�यार है। सच तो यह है कि वे केवल सत�ता के भूखे हैं और इसके लि� वे किसी भी हद तक जा सकते हैं।

हाल ही में उत�तरप�रदेश के प�रतापगढ़ में �क सभा मोदी ने राजीव गांधी को भ�रष�टाचारी नंबर-1 बताया था। इससे पहले अभिनेता अक�षय क�मार को दि� इंटरव�यू में उन�होंने कहा था कि वे 3-4 घंटे ही सोते हैं।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
Mamata Says on Modi you say Jai Sri Ram but have you built even one Ram temple Updates
Mamata Says on Modi you say Jai Sri Ram but have you built even one Ram temple Updates

भोपाल में हिंद�त�व का �जेंडा, राष�ट�रवाद का नारा और निजी ख�न�नस की भी जंग
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

भोपाल. इस बार लोकसभा च�नाव मेंदेश की सबसे हॉट सीट भोपाल में लड़ाई दो पार�टियों की बीच नहोकर दो विचारधाराओं की हो च�की है। �क तरफ है कांग�रेस का नरम हिंद�त�व तो दूसरी तरफ है भाजपा का उग�र हिंद�त�व। भाजपा की साध�वी प�रज�ञा सिंह ठाक�र हिंद�त�व के नाम पर आग उगल रही हैं तो कांग�रेस के दिग�विजय सिंह मंदिर-मंदिर मत�था टेक कर उनको जवाब दे रहे हैं। उनके समर�थन में कम�प�यूटर बाबा के अग�वाई में बाबाओं की फौज लगीहै। यह म�काबला आर�स�स के कट�‌टर हिंद�त�व, भाजपा के राष�ट�रवाद और कांग�रेस के विकास मॉडल के बीच है। प�रज�ञा संघ का �जेंडा लेकर दिग�विजय से निजी ख�न�नस निकालने उतरी हैं।

प�रज�ञा मानती हैं कि मालेगांव कांड में हिंद�ओं को आतंकवादी साबित करने की साजिश रची गई थी। इसके पीछे दिग�विजय थे। प�रज�ञा इस मामले में आरोपी हैं और फिलहाल जमानत पर हैं। वह हार�डकोर हिंद�त�व पर च�नाव लड़ रही है। वह ख�द पर अत�याचार की दास�तां स�नाते ह�� सहान�भूति ज�टाने की कोशिश कर रही हैं।

कांग�रेस के दिग�विजय सिंह के लि� संघ-भाजपा से द�श�मनी नई नहीं है। वह म�ख�यमंत�री रहते और ना रहते ह�� भी दोनों संगठनों के निशाने पर रहे हैं। राजनीति के खिलाड़ी दिग�विजय सिंह इनके घेरों को तोड़ते ह�� ब� रहे हैं। वे आतंकवादियों की पैरवी करने के आरोपों पर बरसते हैं और कहते हैं कि जिस अजहर मसूद पर प�रतिबंध को लेकर मोदी म�ग�ध हो रहे हैं, उसे कंधार तक छोड़ने भाजपा नेता ही ग� थे। आरोपों का जवाब देने के साथ वह अपना विजन डॉक�यूमेंट दिखाकर वोट मांग रहे हैं।

दिग�विजय जल�दी उठते हैं और �क वीडियो संदेश जारी करते हैं। इसमें उन पर लगे आरोपों का जवाब होता है। इसके बाद प�रचार पर निकल पड़ते हैं। लोगों से उनकी ब�नियादी समस�या और मांग पर चर�चा करते हैं। उनके साथ चल रहे जनसंपर�क मंत�री पीसी शर�मा लोगों की समस�या नोट करने और समाधान का वादा करते हैं। �क सभा में बसपा के लोगों को कांग�रेस ज�वाइन कराते समय ईश�वर की कृपा, अल�लाह ताला की द�आ, ग�र� गोविंद सिंह और प�रभ� यीश� का नाम लेकर जय भीम का नारा लगवाते हैं। बागम�गलिया व खजूरी कलां की बस�तियों में कड़ी धूप में गली-गली पैदल घूमते हैं। अधिकांश लोगों को वह नाम से जानते थे। ख�द को बड़ा हिंदू बताते ह�� लोगों को भाजपा के हिंदू �जेंडा के जाल से निकलने की सीख देते हैं। बूथ कार�यकर�ताओं की मीटिंग लेते हैं और च�नाव मैनेजमेंट सम�ाते हैं। कहते हैं कि 318 बूथ हैं। हर बूथ पर 100-100 वोट उधर से इधर ले आओ जीत पक�की हो जा�गी।

प�रज�ञा का साध�वी जीवन पहले की तरह ही चल रहा है। उनका रिवेरा हाउस मंदिर से कम दिखाई नहीं देता। वह स�बह दस बजे घर से निकलती हैं। उससे पहले सभाओं के रोडमैप पर चर�चा करती हैं। प�रचार �क तरह से रोड-शो होता है। कार�यकर�ताओं के गले में भगवा द�पट�‌टा रहता है और वे जयश�री राम के नारे लगाते हैं। लोग पैर छू कर साध�वी से आशीर�वाद लेते हैं। महिलाओं व बच�चियों को वे गले लगाती हैं और बच�चों को द�लारती हैं। वे अपने पर ह�� अत�याचार की कहानी भी स�नाती हैं। यूपी से साध�वी प�राची उनके प�रचार के लि� आई हैं।

सीट का लब�बोल�आब यह है कि संघ के दबाव में भाजपा को यहां हिंदू कार�ड फिलहाल तो भारी पड़ रहा है। दिग�विजय सिंह के तगड़े च�नाव प�रबंधन को अब संघ खेमा भी मजबूत मान रहा है। भाजपा के कद�दावर नेता बाबूलाल गौर व अन�य कार�यकर�ता पूरी तरह सक�रिय नहीं ह�� हैं। सिर�फ हिंदू �जेंडे के बूते च�नाव जीतना अब च�नौती लग रहा है दिग�विजय सिंह हर वर�ग व हर सेक�टर कवर कर रहे हैं, वे लोगों से कह रहे हैं कि मैंने अपनी उम�मीदवारी सामने रख दी है। यदि आप म��े हिंदू विरोधी, आतंकी और देशद�रोही नहीं मानते हैं तो म��े स�वीकार कर लेना। दिग�विजय सिंह की यह बात काफी अपील कर रही है और वह दिन-ब-दिन मजबूत हो रहे हैं। भोपाल में 12 मई को मतदान है और देखने वाली बात यह होगी कि पलड़ा किसका भारी रहता है।

क�यों है हॉट सीट

  • मालेगांव विसà¥�फोट की आरोपी पà¥�रजà¥�ञा ठाकà¥�र का सामना दिगà¥�विजय सिंह से है।
  • दोनों की कटà¥�ता जगजाहिर है।
  • दस साल तक सकà¥�रिय राजनीति से दूर रहे दिगà¥�विजय सिंह ने इस चà¥�नाव से नई पारी शà¥�रू की है।


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
The agenda of Hindutva, the slogan of nationalism and the battle of personal humiliation

<< < Prev 101 102 103 104 105 106 107 108 109 110 Next > >>