VicksWeb upgrade Location upload ads trending
VicksWeb भारत
फाउंडर सिद�धार�थ का अंतिम संस�कार पैतृक गांव में ह�आ, श�रद�धांजलि देने पह�ंचे कर�नाटक के पूर�व सी�म कृष�णा
Source:  bhaskar
Wednesday, 31 July 2019 21:32

मेंगल�र�.देश की सबसे बड़ी कॉफी चेन कैफे कॉफी डे (सीसीडी) के फाउंडर वीजी सिद�धार�थ का अंतिम संस�कारचिकमागल�र जिले में पैतृक गांव चेतनहाली में किया गया। उनके बड़े बेटे अमर�त�य ने उन�हें म�खाग�नि दी। इस दौरान सैकड़ों लोग मौजूद थे। वोक�कालिगा सम�दाय की परंपराओं के अन�सार अंतिम संस�कार किया गया। कर�नाटक के पूर�व म�ख�यमंत�री �स�म कृष�णा और उनकी पत�नी प�रेमा भी दामाद को श�रद�धांजलि देने पह�ंचीं।

सिद�धार�थ (60) का शव ब�धवार स�बह मेंगल�र� की नेत�रावती नदी से मिला। सोमवार रात उनके लापता होने के बाद 25 तैराकों समेत 200 लोग सर�च ऑपरेशन में ज�टे थे। इस दौरान कोस�ट गार�ड के जहाज आईसीजी�स राजदूत और �सीवी (�च-198) की भी मदद ली गई। उधर, प�लिस का कहना है कि मामला पूरी तरह आत�महत�या का लग रहा है लेकिन जांच पूरी होने तक क�छ नहीं कहा जा सकता।

27 ज�लाई को लिखा सिद�धार�थ का कथितपत�र सामने आया था, जिसमें उन�होंनेइक�विटी पार�टनर और कर�जदाताओं के दबाव का जिक�र किया था। उन�होंने लिखा था कि मैं बतौर व�यवसायी नाकाम रहा। प�लिस पूछताछ मेंड�राइवर ने बताया था कि सिद�धार�थ उलाल शहर में स�थित प�ल तक घूमने के लि� आ� थे। वहां उन�होंने कार र�कवाई और पैदल ही निकल ग�। मैं उनका इंतजार कर रहा था। 90 मिनट तक वापस नहीं आ� तो प�लिस को सूचना दी।

कारोबारियों कोआत�मसम�मान नहीं खोना चाहि�: महिंद�रा

महिंद�रा �ंड महिंद�रा के चेयरमैन आनंद महिंद�रा ने सिद�धार�थ के बारेमें कहा है कि मैं उन�हें नहीं जानता और उनके वित�तीय हालातों के बारे में भी पता नहीं। मैं सिर�फ इतना कहूंगा कि बिजनेस में नाकामी की वजह से कारोबारियों को आत�मसम�मान नहीं खोना चाहि�।

‘कर�जदाताओं के दबाव से टूट च�का हूं’
पत�र में सिद�धार�थ ने लिखा था, ‘‘बेहतर प�रयासों के बावजूद मैं म�नाफे वाला बिजनेस मॉडल तैयार करने में नाकाम रहा। मैंने लंबे समय तक संघर�ष किया लेकिन अब और दबाव नहीं �ेल सकता। �क प�राइवेट इक�विटी पार�टनर 6 महीने प�राने ट�रांजेक�शन से ज�ड़े मामले में शेयर बायबैक करने का दबाव बना रहा है। मैंने दोस�त से बड़ी रकम उधार लेकर ट�रांजेक�शन का �क हिस�सा पूरा किया था। दूसरे कर�जदाताओं द�वारा भारी दबाव की वजह से मैं टूट च�का हूं। आयकर के पूर�व डीजी ने माइंडट�री की डील रोकने के लि� दो बार हमारे शेयर अटैच कि� थे। बाद में कॉफी डे के शेयर भी अटैच कर दि� थे। यह गलत था जिसकी वजह से हमारे सामने नकदी का संकट आ गया।’’

‘‘मेरी विनती है कि आप सभी मजबूती से न� मैनेजमेंट के साथ बिजनेस को आगे बढ़ाते रहें। सभी गलतियों के लि� मैं जिम�मेदार हूं। सभी वित�तीय लेन-देनों के लि� मैं जिम�मेदार हूं। मेरी टीम, ऑडिटर�स और सीनियर मैनेजमेंट को मेरे ट�रांजेक�शंस के बारे में जानकारी नहीं है। कानून को सिर�फ म��े जिम�मेदार ठहराना चाहि�। मैंने परिवार या किसी अन�य को इस बारे में नहीं बताया।’’

‘‘मेरा इरादा किसी को ग�मराह या धोखा देने का नहीं था। �क कारोबारी के तौर पर मैं विफल रहा। उम�मीद है कि �क दिन आप सम�ेंगे, म��े माफ कर दीजि�। हमारी संपत�तियों और उनकी संभावित वैल�यू की लिस�ट संलग�न कर रहा हूं। हमारी संपत�तियां हमारी देनदारियों से ज�यादा हैं। इनसे सभी का बकाया च�का सकते हैं।’’

न�यूज �जेंसी ने आधिकारिक सूत�रों के हवाले से बताया है कि आयकर विभाग ने सिद�धार�थ के खिलाफ नियमान�सार कार�रवाई की थी। माइंडट�री के शेयर बेचने से उन�हें 3,200 करोड़ र�प� मिले थे। उन�होंने 300 करोड़ र�प� के टैक�स में से सिर�फ 46 करोड़ र�प� जमा करवा� थे।

1993 में सिद�धार�थ ने कॉफी-डे ग�लोबल की श�र�आत की
सिद�धार�थ का जन�म कर�नाटक के चिकमंगलूर जिले में ह�आ था। उनका परिवार 140 साल से कॉफी प�लांटेशन से ज�ड़ा ह�आ है। 1993 में सिद�धार�थ ने कॉफी-डे ग�लोबल (अमलगेमेटेड बीन कॉफी ट�रेडिंग कंपनी) की श�र�आत की थी। उस वक�त रेवेन�यू सिर�फ 6 करोड़ र�प� था। वित�त वर�ष 2017-18 में कैफे कॉफी-डे ग�लोबल का रेवेन�यू 1,777 करोड़ र�प� और 2018-19 में 1,814 करोड़ र�प� पह�ंच गया। मौजूदा वित�त वर�ष खत�म होने पर कंपनी को 2,250 करोड़ र�प� के रेवेन�यू की उम�मीद है। लेकिन, दूसरा पहलू यह भी है कि पिछले क�छ सालों से सिद�धार�थ कॉफी बिजनेस समेत अन�य कारोबारों में नकदी संकट से जू� रहे थे।

सिद�धार�थ ने पिछले महीने माइंडट�री कंपनी में अपनी पूरी हिस�सेदारी बेची थी
सिद�धार�थ ने पिछले महीने आईटी कंपनी माइंडट�री में अपनी पूरी हिस�सेदारी लार�सन �ंड टूब�रो (�ल�ंडटी) को 3,000 करोड़ र�प� में बेची थी। इससे पहले वे 21% होल�डिंग के साथ माइंडट�री के सबसे बड़े शेयरधारक थे। कॉफी के बिजनेस में सफल कारोबारी के तौर पर उनकी खास पहचान थी। कर�नाटक में सीसीडी के पास 12,000 �कड़ जमीन में कॉफी का प�लांटेशन है। इस साल मार�च तक देशभर में सीसीडी के 1,752 कैफे थे।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
VG Siddhartha dead, VG Siddhartha's News Updates; CCD Founder V.G.Siddhartha dead body found in Netravati river
VG Siddhartha dead, VG Siddhartha's News Updates; CCD Founder V.G.Siddhartha dead body found in Netravati river
VG Siddhartha dead, VG Siddhartha's News Updates; CCD Founder V.G.Siddhartha dead body found in Netravati river
VG Siddhartha dead, VG Siddhartha's News Updates; CCD Founder V.G.Siddhartha dead body found in Netravati river
VG Siddhartha dead, VG Siddhartha's News Updates; CCD Founder V.G.Siddhartha dead body found in Netravati river
VG Siddhartha dead, VG Siddhartha's News Updates; CCD Founder V.G.Siddhartha dead body found in Netravati river
VG Siddhartha dead, VG Siddhartha's News Updates; CCD Founder V.G.Siddhartha dead body found in Netravati river
VG Siddhartha dead, VG Siddhartha's News Updates; CCD Founder V.G.Siddhartha dead body found in Netravati river
VG Siddhartha dead, VG Siddhartha's News Updates; CCD Founder V.G.Siddhartha dead body found in Netravati river
VG Siddhartha dead, VG Siddhartha's News Updates; CCD Founder V.G.Siddhartha dead body found in Netravati river
VG Siddhartha dead, VG Siddhartha's News Updates; CCD Founder V.G.Siddhartha dead body found in Netravati river

आजम के विधायक बेटे अब�द�ल�ला रिहा, सरकारी कार�य में बाधा डालने पर हिरासत में लिया गया था
Source:  bhaskar
Wednesday, 31 July 2019 20:45

रामप�र. उत�तर प�रदेश के पूर�व कैबिनेट मंत�री और सपा सांसद आजम खान के बेटे अब�द�ल�ला को रामप�र प�लिस ने पर�सनल बॉन�ड पर रिहा कर दिया। रामप�र �सपी अजयपाल शर�मा ने कहा कि अब�द�ल�ला को जौहर यूनिवर�सिटी में छापेमारी के दौरान सरकारी कार�य में बाधा डालने के बाद हिरासत में लिया गया था। कार�रवाई के दौरान पार�टी समर�थकप�लिस से भिड़ ग� थे।

प�लिस ने कहा कि अभी तक यूनिवर�सिटी से 2,500 द�र�लभ चोरी ह�ई किताबें बरामद की गई है। इस यूनिवर�सिटी की स�थापना आजम खान ने की थी। दूसरी ओर, फर�जी दस�तावेजों के आधार पर पासपोर�ट बनवाने के आरोप में भी मंगलवार को अब�द�ल�ला के खिलाफ मामला दर�ज किया गया है। अब�द�ल�ला स�वार-टांडा सीट से विधायक हैं।

प�लिस महानिदेशक ओपी सिंह ने कहा कि मंगलवार से श�रू ह�ई छापेमारी ब�धवार को भी ह�ई। सीनियर अधिकारियों ने कहा कि स�टाम�प�स के साथ 2500 किताबों का 50 बॉक�स बरामद किया गया। किताबें प�राचीन और मूल�यवान हैं।

मामले की जांच 16 जून से हो रही

मामले की जांच 16 जून को श�रू ह�ई थी। रामप�र के ओरि�ंटल कॉलेज के प�रिंसिपल ज�बैर खान ने 9,000 से अधिक प�स�तकों को चोरी करने और जौहर विश�वविद�यालय के प�स�तकालय ले जाने का आरोप लगाते ह�� �क प�राथमिकी दर�ज कराई थी।

हिरासत के खिलाफ कार�यकर�ताओं ने राजभवन मार�च किया

अब�द�ल�ला को हिरासत में लि� जाने के बाद सपा नेता नरेश उत�तम के नेतृत�व में पार�टी नेता राज�यपाल आनंदीबेन पटेल से मिलने के लि� राजभवन की ओर मार�च किया। उन�होंने राज�यपाल के आधिकारिक भवन के सामने धरना प�रदर�शन किया। उन�हें आनंदीबेन से नहीं मिलने दिया गया। इस दौरानकार�यकर�ताओं ने योगी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

भाजपा सरकार राजनीतिक बदला ले रही- नरेश उत�तम

नरेश उत�तम ने कहा कि भाजपा सरकार राजनीतिक रूप से बदला ले रही है। सपा कार�यकर�ताओं की हत�या�ं करवाई जा रही है और फर�जी मामलों में फंसाया जा रहा है। हम इसके खिलाफ लड़ते रहेंगे। पूर�वी �सपी स�रेश चंद�र रावत ने कहा कि हमने सड़क पर जाम न लगे इसके लि� उन�हें वहां से हटा दिया। किसी की गिरफ�तारी नहीं ह�ई है। उन�हें प�लिस लाइंस लाया गया है।

ग�र�वार को रामप�र में सपा का प�रदर�शन

पार�टी के �क सूत�र ने बताया कि सपा अध�यक�ष अखिलेश यादव ने बरेली, पीलीभित, संभल, अमरोहा, मोरादाबाद और बिजोर में कार�यकर�ताओं से ग�र�वार को रामप�र पह�ंचकर प�रदर�शन करने के लि� कहा है।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
सपा विधायक अब�द�ल�ला खान।
अब�द�ल�ला खान। -फाइल

2017-18 में भाजपा की संपत�ति 22.27% बढ़ी, कांग�रेस की 15.26% घटी
Source:  bhaskar
Wednesday, 31 July 2019 19:07

नई दिल�ली.�सोसि�शन ऑफ डेमोक�रेटिक रिफॉर�म�स (�डीआर) ने ब�धवार को देश की सात प�रम�ख पार�टियों द�वारा घोषित संपत�ति का लेखा-जोखा पेश किया। इसमें सामने आया कि वित�त वर�ष 2016-17 के म�काबले 2017-18 में भाजपा की संपत�ति करीब 22.27% बढ़ी। 2016-17 में जहां उसकी घोषित संपत�ति 1213 करोड़ र�प� थी, वहीं �क साल में यह संख�या बढ़कर 1483 करोड़ पह�ंच गई। रिपोर�ट के म�ताबिक, भाजपा के अलावा सात अन�य पार�टियों की संपत�ति में भी इस दौरान क�ल 6% की वृद�धि दर�ज की गई।

2017-18 में जिन पार�टियों ने अपनी संपत�ति घोषित की उनमें भाजपा, कांग�रेस, राकांपा, बसपा, सीपीआई, सीपी�म और तृणमूल कांग�रेस शामिल हैं। 2016-17 के 3260.81 करोड़ र�प� के म�काबले 2017-18 में इनकी क�ल संपत�ति 3456.65 करोड़ र�. पह�ंच गई।

कांंग�रेस के अलावा राकांपा की संपत�ति में गिरावट
रिपोर�ट में कहा गया है कि इस दौरान सिर�फ कांग�रेस और राकांपा ही दो पार�टी थीं, जिनकी सालाना घोषित संपत�ति में गिरावट आई। कांग�रेस की संपत�ति में 2016-17 के 854.75 करोड़ र�. के म�काबले 2017-18 में 724.35 करोड़ र�. पह�ंच गई। यह 15.26% की गिरावट थी। दूसरी तरफ �नसीपी की संपत�ति इस दौरान 11.41 करोड़ र�. से गिरकर 9.54 करोड़ र�प� पह�ंच गई।

पहली बार सात दलों की संपत�ति का आंकलन ह�आ

च�नाव आयोग ने इंस�टीट�यूट ऑफ चार�टर�ड अकाउंट�स ऑफ इंडिया से राजनीतिक दलों की ऑडिटिंग श�रू करने के लि� गाइडलाइन तैयार करने को कहा था। इसका मकसद पूरी प�रक�रिया में �करूपता लाना था। फरवरी 2012 में ‘गाइडेंस नोट ऑन अकाउंटिंग �ंड ऑडिटिंग ऑफ पॉलिटिकल पार�टीज ’या ‘अकाउंटिंग गाइडलाइंस’ तैयार की गईं। इन गाइडलाइन�स के आधार पर राजनीतिक दलों के वित�तीय घोषणापत�र, आय-खर�च, संपत�तियों और देनदारी का आकलन किया गया। पहली बार में देश की सात राष�ट�रीय दलों को शामिल किया गया।

2004-05 से 2015-16 तक के वित�तीय वर�षों का लेखा-जोखा

�डीआर ने 16 दिसंबर 2017 को घोषित की गई रिपोर�ट के आधार पर सात राष�ट�रीय दलोंकी चल-अचल संपत�ति का लेखा-जोखा पेश किया था। इसमें 2004-05 से 2015-16 तक के वित�तीय वर�षों का लेखा-जोखा शामिल था। दलों में भाजपा, कांग�रेस, �नसीपी, बी�सपी, सीपीआई, सीपी�म और टी�मसी शामिल थीं।

राजनीतिक दलों द�वारा घोषित संपत�ति का ब�यौरा

ब�धवार को जारी की गई रिपोर�ट में 2016-17 और 2017-18 का विश�लेषण पेश किया गया। इसमें राजनीतिक दलोंद�वारा घोषित संपत�ति का ब�यौरा इस प�रकार है:

  • 2016-17 में सात राषà¥�टà¥�रीय दलों दà¥�वारा घोषित की गई कà¥�ल संपतà¥�ति 3260.81 करोड़ रà¥�.थी, जो 2017-18 में 6% बढ़कर 3456.65 करोड़ रà¥�. हो गई।
  • 2016-17 में भाजपा दà¥�वारा घोषित कà¥�ल संपतà¥�ति 1213.13 करोड़ रà¥�. थी, जो 2017-18 में 22.27% बढ़कर 1483.35 करोड़ रà¥�. हो गई।
  • 2016-17 और 2017-18 मेंकांगà¥�रेस की संपतà¥�ति में 15.26 % की कमी (854.75 करोड़ रà¥�पà¤� से 724.35 करोड़ रà¥�पà¤�) आई,जबकि à¤�नसीपी की संपतà¥�ति में 16.39% की कमी (11.41 करोड़ रà¥�पà¤� से 9.54 करोड़ रà¥�पà¤�) आई।कांगà¥�रेस और à¤�नसीपी à¤�सी दो राषà¥�टà¥�रीय पारà¥�टियां हैं, जिनकी संपतà¥�तियों में कमी आई।
  • टीà¤�मसी की संपतà¥�ति 2016-17 में 26.25 करोड़ रà¥�पà¤� से 29.10 करोड़ रà¥�पà¤� हà¥�ई। यहां करीब 10.86 % की बढ़ोतरी हà¥�ई।

2016-17 और 2017-18 में राष�ट�रीय दलों द�वारा घोषित पूंजी:

  • 2017-18 में घोषित पूंजी के आधार पर भाजपा सबसे बड़ा दल। उसके पास 1461.97 करोड़ रà¥�. की पूंजी।
  • 2017-18 में बसपा के पास 714.97 करोड़ रà¥�. और सीपीà¤�म के पास 479.58 करोड़ रà¥�.की संपतà¥�ति।
  • 2016-17 में सीपीआई ने सबसे कम पूंजी घोषित की, जो कि 1.43 करोड़ रà¥�.थी। à¤�नसीपी ने 5.86 करोड़ रà¥�.घोषित किà¤�।


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
Analysis of Assets and Liabilities of National Parties - FY 2016-17 & 2017-18

पूर�व सी�म बोले- सिद�धार�थ की मौत रहस�यमयी, दोस�त ने कहा- परेशान न किया जाता तो जिंदा होते
Source:  bhaskar
Wednesday, 31 July 2019 18:37

मेंगल�र�. कैफे कॉफी डे के फाउंडर वीजी सिद�धार�थ की मौत के मामले में श�रृंगेरी के विधायक टीडी राजेगौड़ा ने ब�धवार को कहा कि सिद�धार�थ आयकर विभाग के उत�पीड़न से परेशान थे। राजेगौड़ा ने बताया कि सिद�धार�थ 40 साल से पारिवारिक मित�र और सहयोगी थे। राजेगौड़ा के म�ताबिक सिद�धार�थ लापता होने से 4-5 दिन पहले परेशान थे। कर�ज च�काने के लि� वे अपनी संपत�तियां बेचना चाहते थे। उनकी संपत�तियों की वैल�यू देनदारियों से ज�यादा है। अगर उन�हें परेशान नहीं किया जाता तोवे आज जिंदा होते।

सिद�धारमैया ने कहा- सिद�धार�थ की मौत का मामला परेशान करने वाला है। निष�पक�ष जांच के जरि� इसके कारणों का ख�लासा होना चाहि�। उन�होंने सिद�धार�थ के कथित पत�र में टैक�स टेरेरिज�म का जिक�र होने की बात कही। सिद�धारमैया ने कहा कि यह राजनीतिक प�रभाव वाले संस�थानों की भद�दी हकीकत है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
VG Siddhartha found dead: Cafe Coffee Day owner Was upset over Income Tax torture, says Sringeri MLA TD Rajegowda

सांसद ने कहा- दिल�ली के स�कूलों में 25 हजार बच�चे ड�रग�स की चपेट में, अंगों की तस�करी पर मौत की सजा दी जा�
Source:  bhaskar
Wednesday, 31 July 2019 18:07

नई दिल�ली. सदन की कार�यवाही के दौरान ब�धवार को कांग�रेस के राज�यसभा सांसद टी स�ब�बाराम रेड�‌डी ने कहा कि दिल�ली के स�कूलों में 25 हजार बच�चे ड�रग�स की चपेट में है। इसके बावजूद प�लिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है। दिल�ली में आसानी से नशीली दवाइयां और ड�रग�स मिल जाते हैं। इससे बच�चों का भविष�य बर�बाद हो रहा है। यह हाल केवल दिल�ली का नहीं है, बल�कि पूरे उत�तर भारत में यहीस�थिति बनी ह�ई है।

सांसद ने कहा कि नशा करने वाले 83% शिक�षित हैं। लेकिन राज�य सरकार ड�रग माफियाओं के ब�ते दबाव के कारण इन स�थितियों से निपटने में नाकाम रही है। उन�होंने कहा कि हाल ही में इस म�द�दे पर राजस�थान, पंजाब, हरियाणा, उत�तराखंड और हिमाचल प�रदेश के म�ख�यमंत�री के साथ विचार-विमर�श किया गया था। पाकिस�तान और नाइजीरिया जैसे देशों से ड�रग की तस�करी की जाती है। इस पर रोक लगाने के लि� हमें देश के विभिन�न �जेंसियों से बातचीत करने की जरूरत है।

अंगों की तस�करी रोकने के लि� कानून बने- सांसद

वाई�सआर कांग�रेस के सांसद प�रभाकर रेड�‌डी वेमीरेड�‌डी ने देश में हो रहे अंगों की तस�करी पर चिंता जताई। उन�होंने कहा किकिडनी, लीवर, हार�ट की तस�करी ब� गई है। जो लोग इस काम में शामिल हैं, उन�हें मौत की सजा दी जानी चाहि�। संसद में इस पर रोक लगाने के लि� कानून बनाया जाना चाहि�।

वर�तमान में 80% दिव�यांग होने पर ही लाभ मिलता है

तृणमूल कांग�रेस के सांसद मानस रंजन भ�निया ने कहा कि शारीरिक दिव�यांगता के मानदंड को 50%तक तय किया जाना चाहि�। उन�होंने कहा कि शारीरिक दिव�यांगता के कारण प�र�ष, महिलाओं और बच�चों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वर�तमान में 80% दिव�यांगहोने पर ही लाभ मिलता है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
प�रतीकात�मक फोटो।

आईओसी का म�नाफा 47% घटकर 3596 करोड़ र� रह गया, इन�वेन�ट�री गेन घटने का असर
Source:  bhaskar
Wednesday, 31 July 2019 17:58

नई दिल�ली. इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) का म�नाफा अप�रैल-जून में 47% घटकर 3,596.11 करोड़ र�प� रह गया। कंपनी ने ब�धवार को तिमाही नतीजे घोषित कि�। पिछले साल की जून तिमाही में 6,831.13 करोड़ र�प� का प�रॉफिट ह�आ था। रिफायनरी मार�जिन और इन�वेन�ट�री गेन में गिरावट आने की वजह से म�नाफे पर असर पड़ा।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
IOC Q1 Net Profit | Indian Oil Corporation (IOC) Net Profit Decline 47 Per Cent To Rs Rs 3,596.11 crore in June quarter

31 से बढ़ाकर 34 की जा�गी जजों की संख�या, कैबिनेट की मंजूरी के बाद बिल पेश होगा
Source:  bhaskar
Wednesday, 31 July 2019 17:30

नई दिल�ली. केंद�रीय कैबिनेट ने ब�धवार को स�प�रीम कोर�ट में जजों की संख�या10% बढ़ाने के प�रस�ताव को मंजूरी दे दी। इसी के साथ अब सर�वोच�च न�यायालय में चीफ जस�टिस के अलावा33 जज और होंगे। पहले यह संख�या 30थी। कैबिनेट की मंजूरी मिलने के बाद अब इसके लि� संसद में बिल पेश किया जा�गा। संसद की म�हर लगनेके बाद स�प�रीम कोर�ट में जजों की क�ल संख�या 34 पह�ंच जा�गी। केंद�रीय मंत�री प�रकाश जावड़ेकर ने बताया कि इससे पहले 2016 में देशभर की हाईकोर�ट�स में जजों की संख�या 906 से बढ़ाकर 1079 की गई थी।

इससे पहले चीफ जस�टिस रंजन गोगोई ने राष�ट�रपति की मंजूरी के बाद मई में स�प�रीम कोर�ट में चार जजों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई थी। तब करीब 11 साल बाद शीर�ष अदालत में जजों की निर�धारित संख�या 31 पह�ंची थी। सरकार ने 2008 में स�प�रीम कोर�ट में जजों की संख�या 26 से बढ़ाकर 31 की थी। इसके बाद इस साल मई में यह पहला मौका था जब स�प�रीम कोर�ट में जजों का कोई पद खाली नहीं रहा।

जम�मू कश�मीर में सवर�णों को आर�थिक आधार पर 10% आरक�षण
केंद�रीय कैबिनेट ने जम�मू कश�मीर में भी गरीब सवर�णों के लि� 10% आरक�षण पर म�हर लगा दी। इससे आर�थिक रूप से कमजोर वर�ग को भी नौकरी और शिक�षा में आरक�षण मिलेगा। जम�मू-कश�मीर में अभी विधानसभा नहीं चल रही है। वहां राज�यपाल शासन लागू है, इसलि� राज�य सरकार की जिम�मेदारी केंद�रीय कैबिनेट पर आती है।

दूसरे देशों के साथ कार�यक�रमों में ज�ड़ेगाइसरो
जावड़ेकर ने भारतीय अंतरिक�ष �जेंसी इसरो की भविष�य की योजनाओं के बारे में भी जानकारी दी। उन�होंने बताया कि �जेंसी जल�द मॉस�को में टेक�निकल लायजन यूनिट (संपर�क केंद�र) तैयार करेगी। यह यूनिट रूस और पड़ोसी देशों की स�पेस �जेंसियों और उद�योगों के साथ मेलजोल बढ़ाने का काम करेगी। इसके अलावा इसरो ने बोलिविया की स�पेस �जेंसी के साथ भी अंतरिक�ष पर�यवेक�षण के लि� �मओयू पर हस�ताक�षर कि� हैं।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
Centre Decision On Strength of Supreme Court judges from 31 to 33; Number of Judges In Supreme Court

कस�टमर ने गैर-हिंदू डिलीवरी बॉय से ऑर�डर लेने से इनकार किया, जवाब मिला- खाने का कोई धर�म नहीं
Source:  bhaskar
Wednesday, 31 July 2019 17:22

नई दिल�ली. फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो ने मंगलवार को �क कस�टमर की शिकायत स�नने से इनकार कर दिया। मामला मध�यप�रदेश के जबलप�र का है। स�थानीय य�वक अमित श�क�ला ने डिलीवरी बॉय के हिंदू न होने की वजह से ऑर�डर कैंसिल करने की बात कही थी। इस पर जोमैटो ने कहा-खाने का कोई धर�म नहीं होता।

अमित श�क�ला ने ट�वीट किया, ‘‘डिलीवरी बॉय के हिंदू न होने के कारण मैंने जोमैटो को राइडर बदलने या ऑर�डर कैंसिल करने को कहा था। मगरउन�होंने कहा कि वे राइडर चेंज नहीं कर सकते औरन पैसा रिफंड कर सकते हैं। मैंने कहा- आप डिलीवरी के लि� म�� पर दबाव नहीं बना सकते। म��े रिफंड नहीं चाहि�। मैं बस इसे कैंसिल करना चाहता हूं।’’अमित ने कस�टमरकेयर से बातचीत की स�क�रीनशॉट भी शेयर किया। उसने कहा कि वह इस मामले मेंअपने वकील से बात करेगा। दरअसल,फयाज नाम के डिलीवरी �क�जीक�यूटिव को अमित का ऑर�डर देने के लि� निय�क�त किया गया था।

जोमैटो के फाउंडर ने कहा- हम अपने मूल�यों से सम�ौता नहीं कर सकते

जोमैटो के फाउंडर दीपिंदर गोयल ने ट�वीट किया, ‘‘भारतीय होने पर हमें गर�व है। हमारे कस�टमर और सहयोगियों में विविधता है। हमें अपना बिजनेस खोने का डर नहीं है। हम अपने मूल�यों से कोई सम�ौता नहीं कर सकते। हमारे मूल�यों को बना� रखने और जातिऔर धर�म के आधार पर भेदभाव न करने के लि� जोमैटो के कस�टमरकेयर की पूरी टीम काधन�यवाद।"


कस�टमर केयर ने कहा- जातिके आधार पर हम भेदभाव नहीं करते

श�क�ला से जब डिलीवरी बॉय चेंज करने का कारण पूछा गया तो उसने बताया कि उसे म�स�लिम डिलीवरी बॉय नहीं चाहि�। कस�टमरकेयर ने जवाब दिया कि ऑर�डर को कैंसिल करने पर 237 र�प� कट जा�ंगे। फिर कहा कि जोमैटो जातिके आधार पर कोई भेदभाव नहीं करता। उम�मीद है आप सम� ग� होंगे।


उमर ने कंपनी के कदम की तारीफ की

जम�मू-कश�मीर के पूर�व म�ख�यमंत�री उमर अब�द�ल�ला ने ट�वीट किया- म��े आपका �प पसंद है। कंपनी का यह कदम सराहनीय है।

पूर�व निर�वाचन आय�क�त �सवाई क�रैशी ने ट�वीट किया- दिपींदर गोयल को सलाम। आप भारत के असली चेहरे हैं। आप पर गर�व है।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
प�रतीकात�मक फोटो।

भारत में बेंगल�र� छात�रों के लि� सबसे बेहतर शहर, द�निया में लंदन टॉप पर
Source:  bhaskar
Wednesday, 31 July 2019 16:52

लंदन. ग�लोबल कंसल�टेंसी फर�म क�वाक�वैरेली साइमंड�स ने छात�रों के लि� सबसे बेहतर शहरों की लिस�ट जारी की है। पिछले साल की तरह इस साल भी लंदन इस लिस�ट में टॉप पर है। भारत के चार शहर बेंगल�र�, म�ंबई, दिल�ली और चेन�नई को भी टॉप-120 में जगह मिली है। सर�वे के म�ताबिक, यह रैंकिंग किसी शहर में यूनिवर�सिटियों की संख�या, उनके प�रदर�शन, रोजगार अवसर, शहर में जीवन की ग�णवत�ता और अन�कूलता के आधार पर निर�धारित की गईं।

यह रैंकिंग ब�धवार को ही जारी की गईं। भारत में बेंगल�र� छात�रों के लि� सबसे बेहतर शहर है। इसकी वर�ल�डवाइड रैंक 81 है। इसके बाद म�ंबई 85वें, दिल�ली 113वेंऔर चेन�नई 115वें नंबर पर है।क�यू�स ने लिस�ट तैयार करने के लि� द�नियाभर के करीब 87 हजार छात�रों की प�रतिक�रिया�ं लीं।

बेंगल�रू को आगे आते देखना बेहतरीन: क�यू�स

क�यू�स के रिसर�च डायरेक�टर बेन सोटर के म�ताबिक, “हमारी रैंकिंग उन शहरों को दर�शाती हैं जो छात�रों की पसंदीदा हैं। खासकर अंतरराष�ट�रीय छात�रों की। भारत की प�राथमिकता फिलहाल उसके घरेलू विकास और उच�च शिक�षा तक छात�रों की पह�ंच बढ़ाना है। इसलि� अंतरराष�ट�रीय छात�रों के लि� हमारे क�छ मानकों में भारत को न�कसान ह�आ।

बेन ने कहा, “बेंगल�रू को छात�रों के लि� भारत के अग�रिम शहरों में देखना काफी बढ़ावा देने वाला है। म�ंबई भी पढ़ाई के लि� छात�रों के बीच लोकप�रिय हो रहा है। दिल�ली और चेन�नई छात�रों के लि� वहन करने योग�य शहरों में बेहतर रहे।


लिस�ट में टॉप-10 शहरों में �शिया के दो शहर शामिल
क�यू�स टॉप-120 रैंकिंग में अमेरिका और यूके के 14-14 शहर शामिल हैं। �शिया के टॉप शहरों में जापान का टोक�यो दूसरे और दक�षिण कोरिया का सियोल 10वें स�थान पर है। हॉन�गकॉन�ग को 14वां, चीन का बीजिंग 32वें और शंघाई लिस�ट में 33वीं पोजिशन पर हैं। रैंकिंग में ऑस�ट�रेलिया के 7 शहरों को जगह मिली है। इसमें मेलबर�न (3) और सिडनी (9) टॉप-10 में शामिल हैं।

लंदन के मेयर सादिक खान ने इस मौके पर ख�शी जताते ह�� कहा कि इसमें कोई शक नहीं कि हमारा शहर उच�च शिक�षा और अलग संस�कृति के लि� द�निया में सबसे बेहतर है। यह सबूत है कि लंदन हर तरह की प�रतिभा के लि� ख�ला है।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
QS Ranking: QS Best Student Cities Ranking 2019: For the students, best 120 cities in India, Bangalore, 81st, London Top

अमरनाथ यात�रा 4 अगस�त तक रोकी गई, मप�र-महाराष�ट�र समेत 6 राज�यों में भारी बारिश की चेतावनी
Source:  bhaskar
Wednesday, 31 July 2019 16:47

नई दिल�ली. देश के कई राज�यों में बारिश का दौर जारी है। मध�य प�रदेश और महाराष�ट�र समेत 6 राज�यों मेंब�धवार और ग�र�वार को भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। दूसरी ओर, जम�मू-कश�मीर में खराब मौसम के चलते अमरनाथ यात�रा को रोक दिया गया। यहां बारिश के कारण वैष�णो देवी यात�रा के न� मार�ग में स�बह भूस�खलन ह�आ। इसके बाद यहां से आवागमन रोककर यात�रा को पारंपरिक मार�ग पर डायवर�ट करना पड़ा।

भोपाल में 11वीं बटालियन के डिप�टी कमांडेंट असीम उपाध�याय ने बताया कि मौसम विभाग की चेतावनी के बाद �नडीआर�फ की टीम रेड अलर�ट पर है। भोपाल और म�ंबईमें ब�धवार-ग�र�वार कोभारी बारिश का अन�मान है। दूसरी ओर मध�य प�रदेश, महाराष�ट�र, ग�जरात, छत�तीसगढ़, तेलंगाना और नगालैंड में अगले 48 घंटों में भारी बारिश की चेतावनी दी गई है।

कई क�षेत�रों में भारी बारिश का अन�मान: मौसम विभाग

कोंकण, गोवा, सेंट�रल महाराष�ट�र, ग�जरात क�षेत�र के अलावा जम�मू-कश�मीर, हिमाचल प�रदेश, उत�तराखंड और दक�षिणी राजस�थान में भी मूसलाधार बारिश हो सकती है।बंगाल और सिक�किम, असम और मेघालय, नागालैंड, मणिप�र, मिजोरम और त�रिप�रा, छत�तीसगढ़, सौराष�ट�र और कच�छ, तेलंगाना और कर�नाटक के तटीय इलाकों में भी भारी बारिश का अन�मान है।

जितनी बारिश 55 दिन में नहीं ह�ई, उससे ज�यादा ताे 5 दिन में ह�ई
माैसम वैज�ञानिक पीके साहा ने बताया- भाेपाल मेंइस सीजन में 26 से 30 ज�लाई तक पांच दिन में355.8 मिमी बारिश हाे गई, जबकि 1 जून से 25ज�लाई तक सिर�फ 320.3 मिमी ही पानी बरसा था। 5दिन में साेमवार रात 11:30 तक 3 घंटे में ह�ई सवा4 इंच बारिश सबसे तेज थी। 1 जून से 25 ज�लाईके दरमियान 3 ज�लाई की रात ह�ई 118.2 मिमीबारिश सबसे तेज थी। भोपाल में बारिश का कोटा1086.6 मिमी है, जबकि अब तक करीब 60%यानी 676.1 मिमी बारिश हो च�की है।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
Mumbai, Madhya Pradesh Heavy Rain Red Alerts Today Weather Forecast News Updates

<< < Prev 101 102 103 104 105 106 107 108 109 110 Next > >>