VicksWeb upgrade Location upload ads trending
VicksWeb भारत
घोड़ी पर दलित की बारात निकली तो सवर�णों ने ह�क�का-पानी बंद किया, डिप�टी सी�म ने स�ल�ाया विवाद
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

मेहसाणा.ग�जरात के उप-म�ख�यमंत�री नितिन पटेल के ग�रह जिले मेहसाणा में �क दलित दूल�हे की बारात घोड़ी पर निकाली तो सवर�ण समाज के लोग नाराज हो ग� और दलित सम�दाय का बहिष�कार कर दिया। सवर�णों ने दलित परिवार के लोगों का ह�क��का-पानी तक बंद कर दिया। मामले की सूचना मिलने पर नितिन पटेल ने गांव पह�ंचकर दोनों सम�दाय के लोगों से चर�चा की और दलित परिवारों की स�रक�षा देने का भरोसा दिया।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
Dalit Groom Rides Horse In Gujarat Lhor Village, Community Faces Social Boycott

ह�ड�‌डा के साथी उप�पल को खट�टर ने भाजपा का पटका पहनाया; 2 घंटे बाद बोले- मैं तो कांग�रेसी, मेरे साथ शरारत की गई
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

रोहतक.लोकसभा च�नाव अब लगातार रोचक होता जा रहा है। �क-दूसरी पार�टी के कार�यकर�ताओं को तोड़कर अपने में शामिल करने की हाेड़ मची है। हर राेज �क दर�जन से ज�यादा नेता आस�था बदल रहे हैं। इसे लेकर सोमवार को शहर में पॉलीटिकल ड�रामा देखने को मिला। सोमवार स�बह 10 बजे प�राने कांग�रेस व�यापारी नेता रोशनलाल उप�पल को सी�म मनोहर लाल ने भाजपा का पटका पहनाया। शहर में चर�चाओं का दौर श�रू होते ही करीब दो घंटे के अंदर कांग�रेस भवन में जाकर उन�होंने खंडन किया कि वे तो कांग�रेसी हैं। भाजपा का पटका पहनाने की उनके साथ शरारत की गई है। इसके बाद करीब सवा 3 बजे सी�म के साेशल मीडिया अकाउंट पर उप�पल के ही भाजपा में आने का फोटो अपलोड ह�आ। यह मामला दिनभर शहर में चर�चा का विषय रहा।



उप�पल बोले- पार�षद राजू ने शरारत कर भाजपा का पटका पहना दिया
रोशनलाल उप�पल ने बताया कि 55 साल प�राने मेरे बचपन के मित�र जगमोहन मित�तल का मेरे पास फोन आया था कि सोनीपत रोड स�थित कार शोरूम पर आना है। कार�यक�रम पहले से नहीं बताया गया था। स�बह 10 बजे यहां पर पह�ंच ग�। शोरूम पर जाकर पता चला कि थोड़ी ही देर में सी�म मनोहर लाल आने वाले हैं। अचानक सी�म का काफिला यहां पर पह�ंचा तो उनके साथ मंत�री मनीष ग�रोवर व पार�षद राजकमल सहगल भी थे। मैं च�प पीछे बैठा ह�आ था तभी बाबा कपिलप�री व बाबा कर�णप�री भी आ ग�। राजकमल सहगल मेरी रिश�तेदारी में हैं। राजकमल मेरे पास आया और म��े ब�लाया।

मैं ह�ड�‌डा का सिपाही, मेरे साथ शरारत ह�ई

सी�म को कहा कि उप�पल साहब भूपेंद�र ह�ड�डा के राइट हैंड हैं और प�राने ज�ड़े रहे हैं। तभी मेरे गले में भाजपा का पटका डाल दिया। मैंने त�रंत उसे निकालकर दूर फेंक दिया। मैं मना करता रहा। मैं वहां से वापस लौटा और कांग�रेस भवन गया तो मोबाइल फोन लगातार बजने लगा कि आपने भाजपा ज�वाइन कर ली और सी�म के साथ मेरी फोटो भी वायरल कर दी। इसके चलते त�रंत इसका खंडन करना पड़ा। मैं करीब 12 बजे कांग�रेस भवन गया और मैंने बतराजी को फोन करके बताया कि मेरे साथ �सा ह�आ है। मैं तो कांग�रेसी हूं। मेरे साथ शरारत की गई है। मैं पूर�व सी�म भूपेंद�र ह�ड�डा की टीम का ही सिपाही हूं।


उप�पल ने ख�द सिर ��काकर पटका गले में डलवाया, सी�म से बात भी की : सहगल
भाजपा पार�षद राजकमल सहगल ने कहा कि रोशन लाल उप�पल को मैंने कार�यक�रम में नहीं ब�लाया था। वहां पर वे पहले से मौजूद थे। उन�होंने ही मंत�री मनीष ग�रोवर के ब�लाने पर सी�म मनोहर लाल के सामने सिर ��काकर भाजपा का पटका गले में डलवाया था। उन�हें कोई �तराज था तो मौके पर ही प�रतिक�रिया देनी चाहि� थी। वहां पर उन�होंने सी�म से अच�छे से हंसते ह�� बातचीत भी की है। मेरी ओर से कोई शरारत नहीं की गई है। यह आरोप गलत है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
रोहतक. भाजपा का पटका पहनने के बाद सी�म से बात करते रोशनलाल उप�पल। दो घंटे बाद कांग�रेस भवन में भाजपा में जाने का खंडन करते उप�पल।

सीजेआई पर आरोप लगाने वाली महिला का जांच में शामिल होने से इनकार, कहा- इंसाफ की उम�मीद नहीं
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

नई दिल�ली.चीफ जस�टिस रंजन गोगोई पर यौन शोषण के आरोप लगाने वाली स�प�रीम कोर�ट की पूर�व महिला कर�मचारी ने जांच के लि� बनेतीन सदस�यीय पैनल के सामने पेश होने से इनकार कर दिया। महिला मंगलवार को जस�टिस �स� बोबडे, जस�टिस इंद� मल�होत�रा और जस�टिस इंदिरा बनर�जी की इन-हाउस जांच समिति के सामने पेश ह�ई। स�नवाई के दौरान अपनी वकील वृंदा ग�रोवर के मौजूद ना रहने पर महिला ने कहा कि म��े यहां इंसाफ की उम�मीद कम दिखाई देती है। उसने कहा कि यहां का माहौल भयावह है और �से में मैं जांच से बाहर होने के लि� मजबूर हूं।

पूर�व कर�मचारी ने जांच में शामिल ना होने के कारण बता�

  • जांच समिति के सामने पेश होने के बाद महिला ने बयान जारी किया। उनà¥�होंने कहा- मैं अपनी सà¥�रकà¥�षा को लेकर डरी हà¥�ई हूं। जब मैं कोरà¥�ट की कारà¥�यवाही से वापस लौट रही थी, तब 2-4 लोगों ने मेरा पीछा किया।
  • उनà¥�होंने कहा- तीन सदसà¥�यीय समिति ने ना केवल मेरी वकील को सà¥�नवाई के दौरान मौजूद रहने से मना कर दिया, बलà¥�कि उनà¥�होंने यह भी कहा कि अगर मैं जांच में हिसà¥�सा नहीं लेती हूं तो à¤�से में दूसरे पकà¥�ष को तरजीह देने की पà¥�रकà¥�रिया शà¥�रू कर दी जाà¤�गी।
  • "जांच समिति ने कारà¥�यवाही बिना वीडियो और ऑडियो रिकॉरà¥�डिंग के शà¥�रू की। 26 और 29 अपà¥�रैल को मैंने जो बयान दरà¥�ज कराà¤� थे, मà¥�à¤�े उनकी कॉपी भी मà¥�हैया नहीं कराई गई। मà¥�à¤�े उस पà¥�रकà¥�रिया के बारे में भी नहीं बताया गया, जिसका पालन जांच के दौरान किया जाना है।"
  • पूरà¥�व करà¥�मचारी ने कहा- समिति ने मामले से संबंधित दो मोबाइल नंबरों की कॉल डिटेल और वॉटà¥�सà¤�प की डिटेल मंगवाने से मना कर दिया था। इससे मैं असहाय और परेशान हो गई। इस कदम ने मà¥�à¤�े इस मà¥�à¤�े लगता है कि इस समिति से इंसाफ मिलने की संभावना कम है। इसलिà¤� मैं इस समिति की कारà¥�यवाही में आगे से हिसà¥�सा नहीं लूंगी।
  • "मैं इस समिति की कारà¥�यवाही से खà¥�द को बाहर रखने के लिà¤� मजबूर हूं। à¤�सा लगता है कि यह समिति इस तथà¥�य को नहीं मानना चाहती है कि यह शिकायत आम नहीं है। यह मौजूदा चीफ जसà¥�टिस के खिलाफ यौन शोषण की शिकायत है। जरूरी है कि जिन बेहद असमान परिसà¥�थितियों में मà¥�à¤�े रखा गया है, उसमें à¤�सी पà¥�रकà¥�रिया को अपनाया जाà¤�, जिससे पारदरà¥�शी और समानता सà¥�निशà¥�चित हो।"
  • "मà¥�à¤�े उमà¥�मीद थी कि मà¥�à¤�े लेकर वह संवेदनशील होगी, लेकिन à¤�सा नहीं है। इससे मà¥�à¤�े डर, चिंता और मानसिक आघात जैसा महसूस हो रहा है। मà¥�à¤�े यह नहीं बताया गया है कि मेरी शिकायत पर सीजेआई से कोई जवाब मांगा गया है।"
  • पूरà¥�व करà¥�मचारी ने कहा- मà¥�à¤�से लगातार यही सवाल किया जा रहा है कि मैंने इतनी देर में यौन शोषण की शिकायत कà¥�यों की। मेरा वकील मौजूद नहीं है और ना ही कोई समरà¥�थन करने वाला। à¤�से में सà¥�पà¥�रीम कोरà¥�ट के तीन जजों के सामने लगातार मà¥�à¤�से सवाल कर रहे हैं। मैं बेदह घबराई हà¥�ई हूं, कà¥�योंकि मà¥�à¤�े यह माहौल बहà¥�त भयावह लग रहा है।
  • "मैंने 26 अपà¥�रैल को इस उमà¥�मीद के साथ समिति की कारà¥�यवाही में हिसà¥�सा लिया था कि मेरी परिसà¥�थितियों के संबंध में समिति संवेदनशील और ईमानदार रहेगी। मà¥�à¤�े लगा था कि मà¥�à¤�े हà¥�ई परेशानियों के बारे में सà¥�ना जाà¤�गा और आखिरकार मेरे और मेरे परिवार के साथ नà¥�याय होगा।"

साजिश की जांच का जिम�मा रिटायर�ड जज पर

वकील उत�सव बैंसने दावा किया था कि सीजेआई के खिलाफ साजिश रची जा रही है। इसका पता करने के लि� भी �क जांच समिति बनाई गई है। इसका जिम�मा रिटायर�ड जस�टिस �के पटनायक को दिया गया है।

वकील ने कहा था- सीजेआई पर आरोपों के पीछे कॉरपोरेट हाउस
इससे पहले इस मामले की स�नवाई जस�टिस अर�ण मिश�रा की अध�यक�षता वाली बेंच के सामने ह�ई थी। इस दौरान उत�सव बैंस ने सील बंद लिफाफे में सबूत कोर�ट को सौंपे थे। इनमें क�छ सीसीटीवी फ�टेज भी थे। वकील ने कहा था कि साजिश में �क बड़े कॉरपोरेट हाउस का हाथ है। वकील ने �क और सील बंद लिफाफा कोर�ट को देकर कहा था कि दो साजिशकर�ता म��से मिले थे।

तीन सदस�यीय बेंच ने सख�त लहजे में कहा था- हम हमेशा स�नते हैं कि कोर�ट में ‘बेंच फिक�सिंग’ हो रही है। यह हर हाल में बंद होनी चाहि�। पिछले 3-4 साल से जिस तरह से आरोप लगा� जा रहे हैं उससे तो यह संस�था खत�म हो जा�गी। अमीर और शक�तिशाली लोग सोचते हैं कि वे रिमोट कंट�रोल से कोर�ट चला�ंगे। वे आग से खेल रहे हैं। हम फिक�सिंग की साजिश रचने वालों को जेल भेजेंगे। स�प�रीम कोर�ट के 4-5% वकील महान संस�था का नाम खराब कर रहे हैं। ‘बेंच फिक�सिंग’ का मामला गंभीर है और इसकी जांच होगी।


जूनियर कोर�ट असिस�टेंट थीआरोप लगाने वाली महिला

सीजेआई गोगोई पर 35 साल की महिला ने यौनशोषण के आरोप लगा� हैं। उसने �फिडेविट की कॉपी 22 जजों को भेजी थी। यह महिला 2018 में सीजेआई के आवास पर बतौर जूनियर कोर�ट असिस�टेंट पदस�थ थी। बाद में उसे नौकरी से हटा दिया गया।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
Ex SC employee not to participate in-house inquiry panel proceedings

गडकरी बोले- सिंध� जल सम�ौते का अध�ययन जारी; आतंकवाद नहीं र�का तो पाकिस�तान का पानी रोक देंगे
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

अमृतसर. केंद�रीय जल संसाधन मंत�री नितिन गडकरी ने कहा है कि अगर पाकिस�तान आतंकवाद को बढ़ावा देने से बाज नहीं आया तो भारत सिंध� जल सम�ौता तोड़ सकता है। गडकरी के म�ताबिक, सरकार इस जल संधि का अध�ययन कर रही है। अमृतसर में ब�धवार को�क जनसभा के दौरान उन�होंने कहा कि इन तीन नदियों का पानी राजस�थान, पंजाब और हरियाणा को दिया जा सकता है जो अब तक पाकिस�तान जा रहा है।

सम�ौता शांतिकाल के लि�
जल संसाधन मंत�री ने कहा, “भारत से तीन नदियों का पानी पाकिस�तान को मिल रहा है। हम उसे रोकना भी नहीं चाहते,लेकिन जल सम�ौते का आधार दोनों देशों के बीच शांति और मित�रतापूर�ण संबंध था। अब ये भावना पूरी तरह खत�म हो च�की है। इसलि� हम भी जल संधि को मानने के लि� बाध�य नहीं हैं।�

आतंकवाद को पाकिस�तान का समर�थन जारी
गडकरी ने आगे कहा, “पाकिस�तान लगातार आतंकवाद को समर�थन दे रहा है। अगर वह इसे बंद नहीं करता तो हमारे पास भी उसका पानी रोकने के अलावा कोई विकल�प नहीं रह जा�गा। हमने जल सम�ौते का अध�ययन श�रू कर दिया है। रोके जाने के बाद ये पानी हमारे तीन राज�यों पंजाब, हरियाणा और राजस�थान को दिया जा�गा।� बता दें कि 14 फरवरी को प�लवामा आतंकी हमले के बाद गडकरी ने साफ कर दिया था कि भारत जल सम�ौते पर प�नर�विचार कर रहा है। इसके लि� रावी, सतल�ज और व�यास नदियों पर बांध बनाने के काम को तेज करने का फैसला भी लिया गया था।

59 साल पहले ह�ई थी सिंध� जल संधि
भारत और पाकिस�तान के बीच 1960 में सिंध�जल सम�ौता ह�आ था। इसके तहत, रावी, ब�यास और सतल�ज पर पूरी तरह भारत और �ेलम, चिनाब और सिंध� पर पाकिस�तान का हक है। सम�ौते के तहत भारत को बिजली और कृषि कार�यों के लि� पश�चिमी नदियों के पानी के इस�तेमाल के भी क�छ सीमित अधिकार हैं। दोनों पक�षों के बीच विवाद होने और आपसी विचार-विमर�श के बाद भी इसका निपटारा नहीं होने की स�थिति में किसी तटस��थ विशेषज�ञ की मदद लेने या कोर�ट ऑफ ऑर�बिट�रेशन में जाने का प�रावधान है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
नितिन गडकरी (फाइल)

चौथे चरण में कमलनाथ के बेटे सबसे अमीर, 660 करोड़ की संपत�ति; भाजपा के 44% उम�मीदवार दागी
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

नई दिल�ली. लोकसभा च�नाव के चौथे चरण में 9 राज�यों की 71 सीटों पर 210 यानी 23% दागी उम�मीदवार च�नाव लड़ रहे हैं। इन पर कोई न कोई आपराधिक म�कदमा दर�ज है। 158 यानी 17% प�रत�यााशी �से हैं जो गंभीर अपराध के आरोपी हैं। इस चरण में 360 करोड़पति उम�मीदवार भी च�नाव मैदान में हैं।इनमेंमध�यप�रदेश के म�ख�यमंत�री कमलनाथ के बेटे नक�ल नाथ सबसे अमीर हैं। छिंदवाड़ा से च�नाव लड़ रहे नक�ल के पास660 करोड़ र�प�की संपत�तिहै।यह बात �सोसि�शन फॉर डेमोक�रेटिक रिफॉर�म�स (�डीआर) की रिपोर�ट में सामने आई है। �डीआर ने चौथे चरण में च�नाव लड़ रहे 943 में से 928 प�रत�याशियों के हलफनामों का विश�लेषण किया है। चौथे चरण में 29 अप�रैल को मतदान होना है।

21 प�रत�याशियों के खिलाफ महिलाओं से ज�ड़े अपराध के मामले दर�ज हैं। इनमें द�ष�कर�म, यौन उत�पीड़न और महिलाओं के प�रति क�रूरता जैसे मामले शामिल हैं। 12 उम�मीदवार �से हैं, जिन�होंने हलफनामे में यह घोषित किया है कि वे आपराधिक मामलों में दोषी पा� जा च�के हैं। 5 उम�मीदवारों के खिलाफ हत�या की धारा में म�कदमा चल रहा है। 24 प�रत�याशियों पर हत�या के प�रयास का आरोप है। 4 उम�मीदवार फिरौती के लि� अपहरण कराने के आरोपी हैं। 16 प�रत�याशियों के खिलाफ नफरतभरे बयान देने का मामला लंबित है।

चौथा चरण: किस दल के कितने दागी उम�मीदवार

पार�टी क�ल उम�मीदवार कितने दागी कितनों पर गंभीर आपराधिक केस
भाजपा 57 25 20
कांग�रेस 57 18 9
बसपा 54 11 10
शिवसेना 21 12 9
निर�दलीय 345 60 45

*71 में से 37 निर�वाचन क�षेत�र �से, जहां �क-�क सीट पर तीन या उससे ज�यादा दागी उम�मीदवार च�नाव लड़ रहे।

306 उम�मीदवार �से जिनकी संपत�ति 1 करोड़ से ज�यादा
�डीआर ने जिन 928उम�मीदवारों के हलफनामों का विश�लेषण किया है, उनमें 306यानी 33% प�रत�याशियों की संपत�ति 1 करोड़ से ज�यादा है। कांग�रेस और भाजपा के57 उम�मीदवारों में 50 यानी 88%उम�मीदवारों की संपत�ति 1 करोड़ से अधिक है।बसपा के 54 में से 20 और शिवसेना के 21 में से 13 उम�मीदवारों ने अपनी संपत�ति 1 करोड़ से अधिक बताई है। सपा के 10 उम�मीदवारों में से 8 करोड़पति हैं।

पार�टी क�ल उम�मीदवार औसत संपत�ति(करोड़ र�प� में)
भाजपा 57 13.63
कांग�रेस 57 29.03
बसपा 54 2.69
शिवसेना 21 17.85

चौथे चरणके तीन सबसे अमीर उम�मीदवार

उम�मीदवार पार�टी सीट (राज�य) क�ल संपत�ति (करोड़ र�प� में)
नक�ल नाथ कांग�रेस छिंदवाड़ा (मप�र) 660
संजय स�शील भोसले वंचित बह�जन अघड़ी म�ंबई साउथ सेंट�रल (महाराष�ट�र) 125
अन�राग शर�मा भाजपा �ांसी(उप�र) 124

*इस चरण में तीन उम�मीदवार �से हैं,जिन�होंने अपनी क�ल संपत�ति शून�य बताई है।

सबसे कम आय वाले तीन उम�मीदवार

उम�मीदवार पार�टी सीट (राज�य) संपत�ति
प�रिंस क�मार निर�दलीय �ालावाड़ 500

शमस�द�दीन

निर�दलीय चित�तौड़गढ़ 786
बापन शोपन निर�दलीय म�ंबई नॉर�थ ईस�ट 1100



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
कमलनाथ के साथ बेटे नक�ल नाथ। (फाइल)

डिफेंस साइबर �जेंसी जून से काम श�रू करेगी, रियर �डमिरल मोहित ग�प�ता होंगे प�रम�ख
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

नई दिल�ली.देश के मिलिट�री डिफेंस सिस�टम को साइबर अटैक से स�रक�षित रखने के लि� अगले महीने डिफेंस साइबर �जेंसी (डीसी�) की श�र�आत होगी। नौसेना के वरिष�ठ अधिकारी रियर �डमिरल मोहित ग�प�ता इसके पहले प�रम�ख होंगे। डीसी� का म�ख�यालय दिल�ली में होगा। यह �जेंसी दूसरे देशों, खासकर पाकिस�तान और चीनसे होने वाले साइबर अटैक के खतरे से निपटेगी।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
रियर �डमिरल मोहित ग�प�ता। -फाइल

�ारखंड की 4 सीटों में से दो पर भाजपा भारी, दो पर महागठबंधन से म�काबला
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

सिंहभूम यानी शेरदिल लोगों की जमीन। �ारखंड में यह किसी शहर, गांव का नाम नहीं- �क भूगोल है जो दो संसदीय क�षेत�रों-जमशेदप�र और सिंहभूम को समेटता है। स�टील सिटी जमशेदप�र से सटकर बहने वाली स�वर�णरेखा नदी पर बने प�ल को पार करते ही सरायकेला जिला श�रू होता है। फैक�ट�रियों और फ�लैटों से भले ही शहरी क�षेत�र चमचमाता हो लेकिन यहां का ग�रामीण इलाका क�पोषण के मामले में अव�वल है। हालांकि सिंहभूम में क�पोषण म�द�दा नहीं है।

छठे चरण के चार संसदीय क�षेत�र सिंहभूम, जमशेदप�र, धनबाद और गिरीडीह में 12 मई को वोट डाले जा�ंगे। इन संसदीय क�षेत�र के शहरों में राष�ट�रवादी र��ान भले ही हावी हो लेकिन इनके आदिवासी इलाके अभी भी जद�दोजहद से जू� रहे हैं। 2014 में चारों सीटें भाजपा ने जीती थीं। इस बार भाजपा ने गिरीडिह सीट गठबंधन की सहयोगी आजसू को सौंपी है। अब तक �ारखंड में अकेले लड़ने वाली भाजपा के लि� गठबंधन का यह पहला प�रयोग है।


सिंहभूम में पूर�व म�ख�यमंत�री मध� कोड़ा की विरासत पत�नी गीता कोड़ा ने संभाल रखी है। उनकी पार�टी जय भारत समानता पार�टी (जनभासपा) का विलय कांग�रेस में हो च�का है। वे कांग�रेस उम�मीदवार हैं और उनका म�काबला भाजपा के प�रदेश अध�यक�ष लक�ष�मण गिल�वा से है। जनजातीय बाह�ल�य सीट पर निर�णायक आदिवासी मतदाता ही हैं। म�काबला सीधा है और जीत का राज सरायकेला विधानसभा क�षेत�र में छिपा है। क�योंकि क�षेत�र के 1284 बूथों में से 431 अकेले सरायकेला में हैं। गिल�आ ने 2014 में यहीं से 87,524 मतों की ब�त ली थी। 3.15 लाख मतदाता सरायकेला में हैं।

गिल�आ को भरोसा है कि सरायकेला उनकी नैया पार लगा�गा। गीता और गिल�आ ‘हो’ आदिवासी सम�दाय से हैं। 65% आदिवासी आबादी वाले इस क�षेत�र में सर�वाधिक ‘हो’ आदिवासी ही हैं, लिहाजा समाज का मत दोनों के बीच बंटेगा। �ाम�मो (उलग�लान) से पूर�व सांसद कृष�णा मार�डी भी लड़ रहे हैं, वे संथाल हैं। गिल�वा से लोगों में नाराजगी है। बावजूद इसके पी�म मोदी यहां भी बड़ा फैक�टर हैं। सक�रियता और मिलनसार स�वभाव गीता कोड़ा की ताकत है।


जमशेदप�र सीट पर भाजपा के विद�य�तवरण महतो के खिलाफ �ाम�मो ने �ारखंड टाइगर चंपई सोरेन को उतारकर लड़ाई दमदार बना रखी है। �ारखंड पीप�ल�स पार�टी से पूर�व विधायक सूर�य सिंह बेसरा और तृणमूल कांग�रेस से अंजना महतो भी हैं। अंजना के पति श�रीकांत महतो प. बंगाल की सालबनी से तृणमूल के विधायक हैं। सामान�य सीट पर �ाम�मो के आदिवासी प�रत�याशी उतारने को भाजपा हवा दे रही है। उसकी नजर महतो वोट पर है। शहरी वोटर मोदी को �क और मौका देने के पक�ष में हैं तो गांवों में �ाम�मो की चर�चा है।

�ाम�मो को पोटका में इस बार परेशानी है। इसकी वजह भूमिज आदिवासी मत हैं। भूमिज �कतरफा वोट करते हैं और इस समय वह भाजपा के साथ हैं। �ाम�मो को इसका अहसास है लिहाजा चंपई सोरेन गांव में ही डटे ह�� हैं। जीत की चाबी शहर की 86 अवैध बस�तियों में छिपी है। इन बस�तियों में म�ख�यमंत�री रघ�वर दास का खासा प�रभाव है। बस�तियों के लोगों ने ख�द को राष�ट�रवाद से जोड़ लिया है।


धनबाद में भाजपा प�रत�याशी पी�न सिंह और कांग�रेस के कीर�ति �ा आजाद के बीच टक�कर है। परसेप�शन में पी�न सिंह आजाद पर भारी हैं लेकिन सिंह मेंशन के सिद�धार�थ गौतम की निर�दलीय उम�मीदवारी उनके लि� सिरदर�द बनी ह�ई है। गौतम के भाई संजीव सिंह भाजपा विधायक हैं और फिलहाल जेल में हैं। पी�न सिंह ने तीन दशक की च�नावी राजनीति में हार का स�वाद नहीं चखा है। लंबे राजनीतिक सफर के कारण उनके विरोधी भी हैं। पूर�व सांसद रीता वर�मा खफा हैं, लेकिन नमो का नाम आगे कर पी�न ग�स�सा शांत करने में ज�टे हैं। कीर�ति �ा आजाद ब�राह�मण और भूमिहार मतों को साधने में लगे हैं।


गिरीडिह में दो महतो के बीच सीधी भिड़ंत है। भाजपा ने आजसू के चंद�रप�रकाश चौधरी को उतारा है। भाजपा की नजर बड़े वोट बैंक क�र�मी पर है। भाजपा यह सीट देकर बाकी 13 सीटों पर आजसू के वोटों का ट�रांसफर चाहती है। लिहाजा सांसद रवींद�र पांडेय का टिकट काटकर जोखिम लिया है। �ाम�मो ने ड�मरी विधायक जगरनाथ महतो को उतार स�थिति अपने पक�ष में करने की कोशिश की है। जगरनाथ 2014 में 40 हजार मतों से हारे थे। भाजपा कार�यकर�ता आजसू को सीट देने से निराश हैं। यह निराशा बनी रही तो चौधरी को परेशानी हो सकती है। हालांकि नमो के नाम पर चौधरी को भी वोट मिलेंगे।

गठबंधन की स�थिति
�ारखंड की चार सीटों पर 12 मई को मतदान होगा। इनमें �ाम�मो, जमशेदप�र में भाजपा से तो गिरिडीह में आजसू से टक�कर में है। धनबाद और सिंहभूम में वह कांग�रेस के साथ है। भाजपा ने गिरिडीह सीट सहयोगी आजसू को सौंपी है। मां�ी, महतो और म�स�लिम के आधार समर�थन पर नाज करने वाली �ाम�मो के महतो मतों में सेंधमारी की भाजपा कोशिश कर रही है।

रोजगार और पानी बड़े म�द�दे
सिंहभूम में चक�रधरप�र को जिला बनाने, बंद लौह अयस�क खदानों को चालू करना। जमशेदप�र में अस�पताल की खस�ता हालत, बिहार स�पंज आयरन समेत कई कंपनियों का बंद होना, आदिवासियों-में नाराजगी। धनबाद में सिंदरी खाद कारखाना, गांवों में पानी की समस�या और गिरिडीह में विस�थापन, पानी, प�रदूषण, खेतों में सिंचाई स�विधाओं की कमी, इलाके में आलू की अच�छी खेती होती पर कोल�ड स�टोरेज नहीं होने जैसे म�द�दे हैं।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
bjp strong on 2 seats out of four in jharkhand

�नआरसी की समय सीमा बढ़ाने से इनकार, कहा- अंतिम प�रकाशन 31 ज�लाई तक हो
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

नई दिल�ली. स�प�रीम कोर�ट नेराष�ट�रीय नागरिक रजिस�टर (�नआरसी) की समय सीमा बढ़ाने से इनकार कर दिया है। �नआरसी सेबाहर ह�� असम के 40 लाख लोगों के लि� यह बड़ी ख�शखबरीहै। ब�धवार को स�नवाई के दौरान स�प�रीम कोर�ट ने स�पष�ट किया है कि �नआरसी का अंतिम प�रकाशन 31 ज�लाई तक हो जाना चाहि�।

पिछले महीने सीजेआई जस�टिस रंजन गोगोई और जस�टिस �न�फ नरीमन की बेंच ने स�नवाई की थी। बेंच ने असम �नआरसी के समन�वयक प�रतीक हजेला के आवेदन पर संज�ञान लिया था। कोर�ट ने राज�य की �नआरसी से छूट ग� लोगों की नागरिकता के दावे को ‘वंशावली’ और भूमि के रिकार�ड के आधार पर फिर शामिल करने पर कहा था।

दो राज�यों में ह�आ था हंगामा
पिछले साल ज�लाई में �नआरसी की सूची आने के बाद 40 लाख लोगों की नागरिकता पर खतरा पैदा हो गया था। इसके बाद पूर�वोत�तर के दो राज�य पश�चिम बंगाल और असम में खासा राजनीतिक हंगामा ह�आ था। तब �नआरसी में 2.89 करोड़ लोगों के नाम शामिल कि� ग� थे, जबकि इसके लि� 3.29 करोड़ लोगों ने आवेदन दिया था।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
स�प�रीम कोर�ट। -फाइल फोटो

अनिल विज ने म�र�दाबाद के नारे लगाने वालों को अपशब�द कहे, ग�रामीण भड़के तो प�लिस ने लाठियां भांजी
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

अंबाला. भाजपा प�रत�याशी रत�नलाल कटारिया के समर�थन में वोट मांगने पह�ंचे हरियाणा सरकार केस�वास�थ�य मंत�री ने विरोध कर रहे लोगों को अपशब�द कह दि�, जिसके बाद मामले ने तूल पकड़ लिया। लोगों ने नारेबाजी तेज की और हाथापाई पर उतारू हो ग�तो प�लिस ने लाठियां भांजकर भीड़ को खदेड़ दिया।घटना के बादविज को वहां से आनन-फानन में निकलना पड़ा।

मंगलवार दोपहर मेंअनिल विज मछौंडा गांव में पब�लिक मीटिंग करने ग� थे। वे मीटिंग लेकर निकले तो बाहर क�छ लोग खड़े थे। वे भाजपा प�रत�याशीरत�नलाल कटारिया और अनिल विज म�र�दाबाद के नारे लगा रहे थे। इस पर विज ने उन�हें अपशब�द कह दि�। जिसे स�नते ही भीड़ भड़क गई और विज की तरफ भागी। ये देख प�लिसकर�मियों ने बीच-बचाव किया।

गांव वालों की आयोजकों से भी नोक�ोंक

प�लिसकर�मियों और गांववालों के बीच काफी देर हाथपाई ह�ई। अंत में स�रक�षाकर�मी विज को उनकी गाड़ी में बैठाकर वहां से ले ग�।लोग देर तक म�र�दाबाद के नारे लगाते रहे। गांववालों की आयोजकों से भी नोक-�ोंक हो गई। इस पूरी घटना का वीडियो वायरल हो रहा है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
पब�लिक मीटिंग के बाद बाहर निकलते प�रदेश के स�वास�थ�य मंत�री अनिल विज।
विज ने अपशब�द कहे तो हाथापाई श�रू हो गई।
प�लिस ने बीच-बचाव करके अनिल विज को निकाला।
लोगों ने की जमकर धक�का-म�क�की।
विज को निकालते वक�त रास�ते में खड़ी बाइक को हटाते प�लिसकर�मी।

स�प�रीम कोर�ट ने दी कांग�रेस सांसद को च�नाव आयोग के फैसले का रिकॉर�ड दाखिल करने की अन�मति
Source:  bhaskar
Thursday, 01 January 1970 05:30

नई दिल�ली. स�प�रीम कोर�ट ने प�रधानमंत�री नरेंद�र मोदी और बीजेपी अध�यक�ष अमित शाह पर आचार संहिता के उल�लंघन के मामले में कांग�रेस सांसद स�ष�मिता देव को च�नाव आयोग के फैसले का रिकॉर�ड दाखिल करने की अन�मति दे दी है। मामले की स�नवाई अब 8 मई को की जा�गी। कांग�रेस सांसद की ओर से पेश वकील अभिषेक मन� सिंघवी ने कोर�ट में कहा है कि च�नाव आयोग ने इन शिकायतों का निपटारा कर दिया है, लेकिन मामला यहीं खत�म नहीं होता है। इस प�रकरण में स�प�रीम कोर�ट को विस�तार से देखने और गाइड लाइन जारी करने की जरूरत है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लि� दैनिक भास�कर �प डाउनलोड करें
Lok Sabha Chunav 6 may 2019:

<< < Prev 101 102 103 104 105 106 107 108 109 110 Next > >>