VicksWeb upgrade Location upload ads trending
VicksWeb भारत
भोपाल गैस पीड़ितों को करोड़ों का म�आवजा दिलाने वाले अब�द�ल जब�बार म�फलिसी में मर ग� | BHOPAL NEWS
Source:  Bhopal Samachar
Friday, 15 November 2019 16:12

भोपाल। गैस पीड़ितों के हक की लड़ाई लड़ने में अपनी जिंदगी खपा देने वाले सामाजिक कार�यकर�ता अब�द�ल जब�बार का ग�र�वार रात करीब 10.15 बजे इंतकाल हो गया। अपने इलाज में उनकी सारी कमाई खप गई थी। जिंदगी के आखरी दिनों में उनके पास दवाई तक का पैसा नहीं था। क�छ सामाजिक कार�यकर�ताओं और मित�रों ने उनके इलाज के लि� फंड ज�टाने सोशल मीडिया पर म�हिम भी चला रखी थी।

दिग�विजय ने देर कर दी

गंभीर रूप से बीमार जब�बार का बीते क�छ दिनों से �क निजी अस�पताल में इलाज चल रहा था। दोपहर में पूर�व म�ख�यमंत�री दिग�विजय सिंह ने अस�पताल पह�ंचकर उनकी सेहत की जानकारी ली। दिग�विजय ने उनके परिजन को भरोसा दिलाया कि सरकार इलाज का पूरा खर�च उठा�गी। शाम को म�ख�यमंत�री कमलनाथ ने भी ट�वीट कर जब�बार को इलाज के लि� म�ंबई भेजने की बात कही। इसके बाद म�ख�य सचिव �सआर मोहंती उन�हें देखने अस�पताल पह�ंचे।

भोपाल गैस पीड़ितों को करोड़ों का म�आवजा दिलाया

जब�बार का इलाज कर रहे डॉ. अब�बास ने बताया कि जब�बार हार�ट पेशेंट थे। उन�हें डायबिटीज भी थी। ग�र�वार रात 9 और 10 बजे उन�हें दो बार हार�टअटैक आया, जिससे उनका निधन हो गया। यादगारे शाहजहांनी पार�क पर हो रहे अतिक�रमण के खिलाफ भी उन�होंने लंबी लड़ाई लड़ी।

जब�बार 1984 की गैस त�रासदी की पीड़ित महिलाओं के संगठन से ज�ड़े थे और उन�हें हक दिलाने के लि� जिंदगीभर ज�टे रहे। उनके बा�ं पैर में गैंगरीन था, जिसके इलाज में वह आर�थिक तंगी में पह�ंच ग� थे। क�छ सामाजिक कार�यकर�ताओं और मित�रों ने उनके इलाज के लि� फंड ज�टाने सोशल मीडिया पर म�हिम भी चला रखी थी।

जम�मू-कश�मीर में जल�द च�नाव के संकेत, इन सवालों पर अब भी है नजर
Source:  आज तक
Friday, 15 November 2019 16:10

जम�मू कश�मीर को केंद�र शासित प�रदेश बना� जाने के बाद अब जल�द च�नाव करा� जा सकते हैं. इस बात के संकेत जम�मू-कश�मीर के पहले उपराज�यपाल गिरीश चंद�र म�र�मू ने दि� हैं.

IND vs BAN: इंदौर टेस�ट में मयंक अग�रवाल का 'डबल' धमाका
Source:  Navbharat Times
Friday, 15 November 2019 16:07


भोपाल में 50 OLA CAB खटारा मिलीं, RTO ने चेतावनी देकर छोड़ा | BHOPAL NEWS
Source:  Bhopal Samachar
Friday, 15 November 2019 16:06

भोपाल। यात�रियों की शिकायत मिलने पर ग�र�वार को आरटीओ संजय तिवारी (RTO Sanjay Tiwari) के नेतृत�व में उड़नदस�ता अचानक माता मंदिर स�थित प�लेटिनम प�लाजा में ओला कैब (Ola cab) के दफ�तर पह�ंचा। वहां जांच के दौरान ओला की 50 कैब अनफिट मिलीं। किसी के ब�रेक ठीक से काम नहीं कर रहे थे तो किसी के खिड़की के कांच नहीं लग रहे थे। क�छ के टायर घिसे ह�� थे।

हॉर�न से लेकर हैड लाइट ठीक से काम नहीं कर रहीं थीं। साथ ही यात�रियों से नाइट व पीक �ंड ड�राप चार�ज के नाम से ज�यादा किराया वसूल किया जा रहा था। कैब मोटर व�हीकल �क�ट का पालन नहीं करने पर आरटीओ ने कैब चालकों को फटकार लगाई। दफ�तर के स�टाफ से कहा कि जल�द ही अनफिट कैब का संचाालन बंद करें, नहीं तो जब�ती कर कैब का संचालन बंद करा दिया जा�गा।

आरटीओ संजय तिवारी ने बताया कि कैब कंपनी से जल�द ही सितंबर में परिवहन विभाग द�वारा जारी की कैब पॉलिसी के नियमों का पालन करने के लि� निर�देशित किया। कैब संचालित करने का लाइसेंस लेने, यात�रियों की स�रक�षा के लि� पैनिक बटन लगाने, फर�स�ट �ंड बॉक�स सहित अन�य नियमों को लागू करने को कहा। चेतावनी दी कि यदि जल�द ही मनमानी नहीं र�की और यात�रियों की शिकायतें आईं तो कैब को जब�त करने की कार�रवाई की जा�गी।

INX मीडिया केस: पी चिदंबरम को �टका, हाई कोर�ट ने खारिज की जमानत याचिका
Source:  आज तक
Friday, 15 November 2019 16:05

INX मीडिया मामले में पूर�व केंद�रीय मंत�री पी चिदंबरम को दिल�ली हाई कोर�ट से �टका लगा है. हाई कोर�ट ने श�क�रवार को चिदंबरम की जमानत याचिका खारिज कर दी. हाई कोर�ट के जस�टिस स�रेश कैथ ने अपने आदेश में कहा कि अगर इस स�टेज पर चिदंबरम को जमानत दी जाती है तो 70 बेनामी बैंक �काउंट समेत शेल कंपनी और मनी ट�रेल को साबित करना जांच �जेंसी के लि� म�श�किल हो जा�गा. इसलि� चिदंबरम की जमानत अर�जी को खारिज किया जाता है. INX मीडिया मामले में पी चिदंबरम को 5 सितंबर को जेल भेजा गया था. पिछले 70 दिनों से वह तिहाड़ जेल में बंद हैं.


बिहार में असद�द�दीन ओवैसी के खिलाफ परिवाद पत�र दायर
Source:  Khaskhabar
Friday, 15 November 2019 16:04

बिहार के सारण जिले की �क अदालत में हैदराबाद के सांसद मोहम�मद असद�द�दीन ओवैसी के खिलाफ सर�वोच�च

UP: सरकारी विभागों और नेताओं पर 13 हजार करोड़ का बिजली बिल बकाया
Source:  आज तक
Friday, 15 November 2019 16:03

ऊर�जा विभाग की ओर से दी गई सूचना के म�ताबिक सिंचाई विभाग पर 2,656 करोड़ र�पये का बिजली बिल बकाया है. इसी तरह शहरी विकास विभाग को बिजली के बकाया के तौर पर 3636.18 करोड़ र�पये का भ�गतान सरकार को करना है.

नेक�सॉन EV में होंगे 30 से ज�यादा कनेक�टेड फीचर
Source:  Navbharat Times
Friday, 15 November 2019 16:03


महाराष�ट�र पर गडकरी का बयान: राजनीति और क�रिकेट में हालात कभी भी बदल सकते हैं | POLITICAL NEWS
Source:  Bhopal Samachar
Friday, 15 November 2019 15:57

मà¥�ंबई। महाराषà¥�टà¥�र में विधानसभा चà¥�नाव के बाद राषà¥�टà¥�रपति शासन लागू होने और मौजूदा राजनीतिक हालात पर केंदà¥�रीय मंतà¥�री नितिन गडकरी ने पà¥�रतिकà¥�रिया दी। उनà¥�होंने गà¥�रà¥�वार को à¤�क कारà¥�यकà¥�रम में कहा कि कà¥�रिकेट और राजनीति में कà¥�छ भी हो सकता है। कभी-कभी लगता है कि हम मैच हार गà¤� हैं, लेकिन अंतिम नतीजे विरोधियों के उलट आ जाते हैं। उनका इशारा शिवसेना के भाजपा से गठबंधन तोड़ने और सरकार बनाने के लिà¤� राकांपा-कांगà¥�रेस से संपरà¥�क साधने की ओर था। 

भाजपा (105 सीट) के सरकार बनाने से इनकार करने पर शिवसेना (56 सीट) ने बह�मत के लि� जरूरी 145 विधायकों का समर�थन ज�टाने की काफी कोशिश की, लेकिन उसे कामयाबी नहीं मिली। इसके बाद राज�यपाल भगत सिंह कोश�यारी ने तीसरे सबसे बड़े दल राकांपा (54 सीट) को संख�याबल बताने के लि� न�योता दिया था। शिवसेना, राकांपा और कांग�रेस ने अपने-अपने नेताओं के साथ कई बैठक कीं। इस बीच, राज�यपाल की सिफारिश पर महाराष�ट�र में राष�ट�रपति शासन लागू हो गया था।

किसी की भी सरकार बने, परियोजनाओं पर असर नहीं: गडकरी

कार�यक�रम में गडकरी से पूछा गया कि अगर महाराष�ट�र में गैर-भाजपा सरकार बनी तो म�ंबई समेत अन�य शहरों में विकास परियोजनाओं का क�या भविष�य होगा। केंद�रीय मंत�री ने कहा कि सरकारें बदलेंगी, लेकिन प�रोजेक�ट चलते रहेंगे। इसमें कोई परेशानी नहीं है। भाजपा, कांग�रेस या राकांपा किसी की भी सरकार बने, केंद�र सकारात�मक रहेगा।

सर�दियों में करें �से परफेक�ट मेकअप, दिखेंगी बेहद खूबसूरत
Source:  आज तक
Friday, 15 November 2019 15:56

क�छ आसान टिप�स अपनाकर आप चंद मिनटों मे बिल�क�ल अलग और खूबसूरत दिखेंगी.

<< < Prev 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 Next > >>